भारत से पहले अपने ही देश में समलिंगियों से भिड़ा चीन…

समलैंगिक संबंधों को दिखाने वाले वीडियो को चीन में इंटरनेट पर ब्लॉक किए जा रहे हैं। इसको लेकर चीन की माइक्रोब्लॉगिंग साइट वीबो पर जमकर बहस छिड़ी हुई है, कई वीबो यूजर सरकार के इस फ़ैसले का विरोध कर रहे हैं, कुछ नाराज़ हैं तो कुछ हताश लग रहे हैं। सरकार आख़िर किस अधिकार से समलैंगिकों के साथ भेदभावपूर्ण रवैया अपना रही है। आखिर सरकार उन्हें अछूत साबित क्यों करना चाह रही है जिसके कारण कुछ लोग नाराज़, तो कुछ हताश लग रहे हैं। 
एक यूजर ने लिखा कि सभी लोग एक समान हैं। वहीं “एक अन्य ने लिखा है कि क्या समलैंगिक लोग इंसान नहीं हैं? ‘सिसक’ में पर्दे पर उतरी समलैंगिकों की ख़ामोशी सेक्स के प्रति बढ़ती अरुचि- आख़िर क्यों? ऐसे वीडियो पर नज़र रखने के लिए विशेष रूप से सेंसरशिप टीम का गठन को तैयार किया गया है, जो वीडियो डिलीट करने का काम कर रही है। 
जुलाई के शुरुआती दिनों में लागू किए गए नियम जो है उनमें समलैंगिकता को बढ़ावा देने वाले वीडियो को सरकार ने इंटरनेट से हटाने का निर्णय लिया था। समलैंगिक लोगों को ‘एबनॉर्मल’ बताते हुए सरकार ने समलैंगिक सेक्स वीडियो के साथ-साथ जिसमें समलैंगिक जोड़ों वाली उन वीडियो पर भी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं जिससे लोगों के बीच काफी गुस्सा आ गया जिससे लोगों ने सरकार से अपना फैसला वापिस लेने को कहा है।
Share This Post