अपने ही पाले नागों से डसा गया पाकिस्तान .. ब्लास्ट से उडी चलती ट्रेन जो रावलपिंडी से जा रही थी क्वेटा


आतंक किसी का सगा नहीं है ये आख़िरकार साबित हो रहा है पाकिस्तान में . अपने खुद के पाले नागो से बार बार डसे जाने के बाद भी आख़िरकार पाकिस्तानक को सद्बुद्धि न आये तो ये वहां के नीति निर्धारको की गलती मानी जा सकती है . एक बार फिर से पाकिस्तान शिकार हुआ है अपने लोगों द्वारा ही अपने ही लोगों की लाशें गिराए जाने का जहाँ पर बलूचिस्तान इलाके में एक चलती हुई पैसेंजर ट्रेन को निशाना बनाया गया है और ट्रैक पर लगे बम ने पूरी बोगी उड़ा डाली है .

पाकिस्तान के लिए ये हैरान कर देने वाला मामला हुआ है अशांत कहे जाने वाले बलूचिस्तान के डेरा मुराद जमाली इलाके में . ये वही इलाका है जहाँ के बलूच पाकिस्तानी सेना के आतंक से हथियार उठा चुके हैं और दुनिया भर में खुद को पाकिस्तान से अलग होने का एलान कर रहे हैं . इस से पहले भी यहाँ कई बार निर्दोषों का खून बह चुका है .फिलहाल मौके पर मृतको के घर वालों और घायलों की चीख पुकार मची हुई है और लोग बदहवास हो कर ट्रेन से कूद कर भागते देखे गये हैं .

इस ब्लास्ट में ट्रेन के ट्रैक में बम फिट किया गया था जिस से थोड़ी देर बाद पैसेंजर ट्रेन गुजरने वाली थी . जफर एक्सप्रेस नाम की ये ट्रेन रावलपिंडी से क्वेटा जा रही थी जिसकी एक पूरी बोगी ही हवा में उड़ कर जमीन पर आ गिरी है. इस ब्लास्ट में अब तक 5 मौतों और दर्जनों के घायल होने की खबर आ रही है . कुछ घायलों के गम्भीर होने के चलते मौतों का ये आंकड़ा और भी बढ़ सकता है . बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री कमाल खान ने कहा है कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा .


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...