नमाज़ ना पढ़ने वालों के कत्लेआम का फ़रमान.. वो भी जिंदा जला कर.. दुनिया उन्हें इमाम साहब कहती है

कभी शिया सुन्नी मुस्लिम नफरत की वारदाते सामने आती हैं जिसमे शिया सुन्नी एक दूसरे पर मुस्लमान न होने का दावा करते हैं तो अब मस्जिद के एक इमाम

ने अपने ही मुस्लिम भाइयों के लिए कुछ ऐसी आग ऊगली जिसे सुन मुस्लिमो के होश उड़ जाए। इतनी नफरत है उस मज़हबगुरु के भीतर की वह मुस्लिमों को

ज़िंदा जला डालना चाहता हैं। दरअसल, स्विट्जरलैंड के अननूर मस्जिद के इमाम ने शुक्रवार को मस्जिद में मौजूद लोगो को कहा कि सभी को नमाज पढ़नी चाहिए।

जो मुस्लिम नमाज नहीं

पढ़ते है उन्हें मुस्लिम समाज से निकाल देना चाहिए। यदि इसके बाद भी वो नमाज पढ़ना शुरू नहीं करते हैं तो ऐसे लोगों को उनके घर जाकर उन्हें जिंदा जलाकर

मार देना चाहिए।

इस मामले में स्विट्ज़रलैंड सरकार ने इमाम पर 18 महीने की जेल की सजा और 15 साल तक स्विट्जरलैंड में प्रवेश पर रोक लगाए जाने की सजा पर विचार कर

रही है। स्विट्ज़रलैंड सरकार ने हिंसा को बढ़ावा देने वाले और नफरत पैदा करने वाले के खिलाफ इतना शख्त कदम उठा रही हैं वही भारत में ऐसे नेता मौजूद हैं,

जो लोगों को मज़हब और जाती के नाम पर भड़काते हैं और जब केंद्र सरकार उनके खिलाफ कदम उठाती हैं तो वह नेता उसे केंद्र का षड्यंत्र का नाम देती हैं।

Share This Post

Leave a Reply