Breaking News:

भारतीयों पर नस्लीय हमला, शूटर चिल्लाया- मेरे देश से निकल जाओ और मार दी गोली

वाशिंगटन : अमेरिकी के कंसास में एक भारतीय इंजीनियर पर नस्लीय हमला किया गया। हैदराबाद के रहने वाले 32 साल के श्रीनिवास कुचिभोटला की अमेरिका में गोली मारकर हत्या कर दी गई। बुधवार की रात अमेरिका के कनसास शहर के बार में श्रीनिवास अपने दोस्त आलोक मदसानी के साथ बैठे थे। 
तब अचानक 51 साल के एक रिटायर्ड नौसैनिक एडम पुरिनटोन ने यह कहते हुए उन दोनों पर गोली चलाई कि ‘निकल जाओ मेरे देश से’। बता दें कि श्रीनिवास, अमेरिकी मल्टीनेश्नल कंपनी गार्मिन इंटरनेश्नल में काम करते हैं जो जीपीएस सिस्टम बनाती है। वह 2014 में इस कंपनी में शामिल हुए थे और उनकी पत्नी सुनयना दुमाला भी कनसास में ही एक टैक्नॉलोजी कंपनी में काम करती हैं। 
सुत्रो के मुताबिक, आरोपी अमेरिकी नौसेना में काम कर चुका है। हमले के बाद पुरिनटोन बार से भाग गए और पांच घंटे बाद उन्हें पकड़ लिया गया। हालांकि, पुलिस ने इस बात पर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है। वहीं, चश्मदीदों के मुताबिक हमले में घायल इएन ग्रिलॉट दोनों भारतीयों के बचाव में खड़े हुए थे। लेकिन हमलावर ने उन्हें भी नहीं बख्शा। 
ग्रिलॉट ने अस्पताल में स्थानीय मीडिया से बात की। उनका कहना था कि कुछ लोग उन्हें हीरो कह रहे हैं, लेकिन उन्होंने सिर्फ इंसानियत का फर्ज निभाया। वहीं, विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया है कि वह कनसास की गोलीबारी में श्रीनिवास की हत्या से सकते में हैं। 
उन्होंने लिखा कि पीड़ित के परिवार को हर तरह की मदद दी जाएगी। श्रीनिवास के शव को भारत लाने के लिए GoFundMe वेबसाइट ने मुहिम शुरू की है। आठ घंटे में इस पेज ने श्रीनिवास के लिए 150,000 डॉलर के गोल को पार कर लिया है और करीब 200,000 डॉलर इकट्ठे कर लिए हैं। 
Share This Post