Breaking News:

लड़की ने ट्विटर पर डाली कुरान की आयतें. चीन की पुलिस जेल में डाल कर बोली – दंगाई है ये

भारत में अभिव्यक्ति की आज़ादी के साथ धार्मिक स्वतन्त्रता की बात करने वालो को इस खबर पर जरूर ध्यान देना चाहिए क्योंकि यहाँ अभिव्यक्ति की आज़ादी के साथ धार्मिक स्वतन्त्रता दोनों एक साथ दमन हुयी है .अफ़सोस ये कार्य उस चीन में हुआ है जो अक्सर अभिव्यक्ति की आजादी और धार्मिक स्वंत्रतता की छूट मांगने वालों का एक आदर्श हुआ करता है . धार्मिक स्वतंत्रता का दमन इसलिए हुआ क्योंकि आयतें थी कुरआन की और अभिव्यक्ति की आज़ादी का दमन इसलिए हुआ क्योंकि प्रयोग हुआ था ट्विटर का जो चीन एक प्रशासन को बिलकुल भी रास नहीं आया .

मामला है नॉर्थ वेस्ट चीन के झिंजियांग प्रांत का . यहाँ के प्रशासन ने उइघुर की २६ वर्षीया कोरला निवासी एक मुस्लिम लड़की को ट्विटर पर मात्र कुरानी आयतें को पोस्ट करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है ।रेडियों फ्री एशिया के हवाले से आयी इस खबर के अनुसार 8 मई दिन सोमवार 8 को इस लड़की को हिरासत में लिया गया है और उसे कट्टरता और मज़हबी उन्माद फैलाने के आरोप में जेल में डाल दिया गया है .

माना जाता है की अल्लाह के बारे में बात करना और कुरआन की कोई भी बात को कॉपी करना यहाँ अपराध माना जाता है और उस लड़की को इसी अपराध का दोषी मानते हुए जेल भेजा गया है ..बताया यह भी जाता है की उस क्षेत्र में दुकानों पर कुरान की प्रतियों बेचना भी गैर कानूनी है जिसके उल्लंघन पर कड़ी सज़ा का प्रावधान है। तुर्की-आधारित जातीय समूह का नेतृत्व कर रहे विश्व उईघुर कांग्रेस समूह ने  माना है कि चीन की हालिया सरकार की नीति मुस्लिमों के मजहबी जीवन को बुरी तरह से प्रभावित कर रही हैं . उन्होंने माना की चीन के मुस्लिमों के लिए इस तरह का माहौल बेहद दमनकारी और प्रताड़ित करने वाला है . 

Share This Post