जर्मनी में बन रही पहली ऐसी उदारवादी मस्जिद जिसके नियम जान कर एक बार तो होश उड़ जाएंगे

इस्लाम सदा से अपने नियमों पर अटल रहा है, उसमे कहीं भी किसी भी प्रकार से किसी बदलाव की गुंजाइश से उसके मौलाना और इस्लामिक जानकार इनकार करते हैं ..उसके नियम अटल व अपरिवर्तनीय माने जाते हैं जिसे शुरुआत से अब तक मुसलमानों द्वारा माने भी जा रहे हैं ..

इस्लामिक नियमों में औरतों को मस्जिद में खुद को ढक कर जाना, समलिंगी अर्थात गे को वर्जित बताया गया है .. इन नियमों के साथ आज तक कोई समझौता नहीं किया गया और ना ही भविष्य में ऐसा होने की संभावना है .. पर जर्मनी ने अचानक ही इसको बदलने का शायद बीड़ा उठा लिया है जिसे वहां के कुछ उदारवादियों का साथ और समर्थन भी मिल रहा है ….

जर्मनी के में इब्न रुश्द गोएथे नाम से ऐसी मस्जिद बन रही है जो शायद इस्लामिक नियमों से मेल जोल ना खा रही हो ..यह मस्जिद जर्मन आर्थर जोहान वोल्फगैंग के नाम पर आधारित होगी … इस मस्जिद में औरतें बिना बुरका या हिज़ाब के आ सकती हैं , औरतें ईमामों की तरह खुतबा या उपदेश दे सकती हैं .. सबसे बड़ी बात ये है कि इस मस्जिद में गे अर्थात समलिंगी भी आ कर अपनी इबादत कर सकते हैं जिन्हें किसी भी प्रकार से कोई रोक टोक नहीं की जाएगी …

कुल मिला कर उदारवादियों के प्रयास से बन रही ये मस्जिद अपने आप मे अनोखी व अद्वितीय मस्जिद होगी ।

Share This Post