इतिहास में पहली बार इतिहासकारों के निशाने पर है ईसा मसीह. यक़ीनन दुनियाभर में आ सकता है भूचाल

क्या ईसा मसीह ईश्वर हैं ? क्या उनका कोई अस्तित्व था ? इस तरह के सवाल कुछ बड़े इतिहासकारों द्वारा उठाए गए है । दुनियाभर के इसाई ईसा मसीह को ईश्वर मानते है और उनकी पूजा करते है। अगर यहूदी और इस्लाम धर्म की बात करें तो इनमें ईसा मसीह को पैगम्बर बताया गया है। दुनियाभर में  ईसा मसीह को  ईश्वर समझ कर पूजा जाता  है।  यहूदी और इस्लाम धर्म की बात करें तो इनमें ईसा मसीह को पैगम्बर बताया गया है। लेकिन कई इतिहासकारों ने ये दावा किया है कि इसा मसीह नाम का कोई शख्स शायद कभी पैदा ही नहीं हुआ था। यह मात्र अफवाह भर है।
मशहूर लेखक रेजा असलान की किताब ‘ज़ेलट’, डेविड फिट्सजेरलेड की लिखी ‘नेल्ड: टेन क्रिस्चन मिथ्स दैट शो जीज़स नेवर एक्जिस्टड ऐट ऑल’ और बार्ट ऐरमन की लिखी ‘हाऊ जीज़स बिकेम गॉड’ ईसा मसीह के अस्तित्व के मुद्दे पर प्रकाश डालती हैं। इसके अलावा कई और किताबें हैं जो ईसा मसीह के अस्तित्व के मुद्दे पर सवाल उठती है। 
Share This Post