पाकिस्तान में हिंदू भगवा लेकर सड़कों पर… 36 साल के बूढ़े ने 14 साल की बच्ची को बनाया हवस का शिकार…

पाकिस्तान में धर्म परिवर्तन का एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां एक 14 वर्षीय एक लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कर उसकी शादी एक 36 साल के व्यक्ति के साथ करा दी गई। इस घटना के बाद से पाक के सिंध प्रांत में हिंदू समुदाय के खासा आक्रोश है। 
दरअसल, पाकिस्तान के सिंध के थार जिले की रहने वाली नाबालिग हिंदू लड़की रविता मेघवार को उसके पास के गांव वनहारो से सैयद समुदाय के लोगों ने कथित तौर पर छह जून को अगवा किया और उसका धर्म परिवर्तन करना दिया गया। इसके बाद उसकी शादी उसकी दुगनी उम्र वाले नवाज अली शाह नाम के एक व्यक्ति के साथ कर दी गई। 
इस घटना के बाद से ही हिंदू समुदाय में गुस्सा है और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाही की मांग कर रहे हैं। इस मामले का खुलासा तब हुआ था जब एक पत्रकार बिलाल फारूकी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर हिन्दू लड़की रविता के अगवा कर और जबरन मुस्लिम बनाकर शादी किए जाने की खबर पोस्ट की थी। 
पीड़िता के पिता सताराम ऊर्फ सतियो मेघवार ने वकील भगवदास के माध्यम से दायर अपनी याचिका में अदालत से कहा था कि उनकी बेटी का जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया और उसकी शादी करा दी गई। हिन्दू लड़की और उसके पिता ने दोनों के लिए सुरक्षा की मांग की है। पाकिस्तान हिंदू कौंसिल ने सुप्रीम कोर्ट से इस मामले पर सुओ मोटो (Suo Moto) नोटिस के लिए अपील की है ताकि इस तरह के जबरदस्ती धर्म परिवर्तन पर रोक लग सके।
Share This Post