गिलगिट-बाल्टिस्तान को पाक में मिलाने के खिलाफ पीओके में प्रदर्शन, पाक विरोधी लगे नारे

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के गिलगित-बाल्टिस्तान को पांचवा प्रांत बनाने पर पीओके और गिलगित में विरोध प्रदर्शन जारी है। बता दें कि अभी पाकिस्तान में बलूचिस्तान, खैबर पख्तूनख्वा, पंजाब और सिंध चार प्रांत हैं। गिलगित-बाल्टिस्तान को एक अलग भौगोलिक क्षेत्र माना जाता है।

गिलगित-बाल्टिस्तान को पांचवा प्रांत बनाने के फैसले के ख़िलाफ हो रहे उग्र प्रदर्शनों में पाकिस्तान विरोधी नारे लगाए जा रहे हैं। नारों में ‘बच्चा-बच्चा कट मरेगा, पर ये सूबा नहीं बनेगा’ जैसे नारे शामिल हैं। विरोध प्रदर्शन में बड़ी संख्या में आम लोग और वकील भी शामिल हैं।

प्रदर्शन कर रहे वकीलों का आरोप है कि पाक सरकार हमारी जमीन को चीन-पाकिस्तान इकॉनोमिक कॉरीडोर के लिए इस्तेमाल करना चाहती है, इसलिए वो ऐसी साजिश रच रही है। गौरतलब है कि पाकिस्तान के अंतर-प्रांतीय समंवय मंत्री रियाज हुसैन पीरजादा ने विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज के नेतृत्व वाली एक समिति ने गिलगित-बाल्टिस्तान को प्रांत का दर्जा देने का प्रस्ताव रखा है।

चीनी निवेश को वैधता मिलने के लिए चीन के इशारे पर पाकिस्तान क्षेत्र को पूर्ण राज्य बनाने जा रहा है। वहीं, भारत का कहना है कि यह क्षेत्र हमारा है. भारत का कहना है कि गिलगित-बाल्टिस्तान भारत का अभिन्न अंग है। चीन पाकिस्तान आर्थिका गलियारे (CPEC) इसी क्षेत्र से होकर गुजरेगा। भारत इसे अपनी संप्रभुता का उल्लंघन मानता है।

Share This Post