भारतीयों को झटका, ऑस्ट्रेलिया के बाद अब अमेरिका ने भी H-1B वीजा को किया रद्द

वॉशिंगटन : विदेश में नौकरी की चाहत रखने वाले भारतीय यूवा इन दिनों चारों तरफ से मुश्किल में फंसे है। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के 457 वीजा प्रोग्राम रद्द किए जाने के बाद अब अमेरिका ने भी एक ऐसे ही आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं। 
बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक ऐसे आदेश पर साइन किए है, जिससे एच-1बी वीजा प्रक्रिया को सख्त बना दिया है। इसके स्थान पर अब नई वीजा को लाने की योजना बना दी गई है। ट्रंप का यह कार्यकारी आदेश कम वेतन वाले विदेशी कामगारों के लिए अमेरिकी कंपनियों में नौकरियों को कम कर देगा। ट्रंप ने विस्कॉन्सनर में स्नैप-ऑन टूल के मुख्यालय पर छात्रों और कर्मचारियों को संबोधित करने के बाद यह हस्ताक्षर किए। ट्रंप के नए आदेश के बाद H-1B वीजा के दुरुपयोग की समीक्षा की जाएगी। 
गौरतलब है कि भारतीय आईटी के कंपनियों में इस वीजा का फायदा होगा और इस H-1B वीजा से भविष्य में भारतीय आईटी कंपनियों को अमेरिका में नौकरी करना मुश्किल हो जाएगा। ट्रंप का कहना है कि H-1B वीजा के ज़रिए अमेरीका के नागरीक के साथ नाइसांफी कर रहें थे। अब इस बचने के लिए हमने यह कदम उठाया है। इससे पहले एच-1बी वीजा देने में सख्ती बरतने का एलान यूएस सिटिजनशिप एंड इमिग्रेशन सर्विस ने किया था। ट्रंप ने अपने चुनाव अभियान के दौरान एच1बी वीजा के नियम को कड़े करने का वादा किया था।
Share This Post