Breaking News:

एक दूसरे का लहू बहा रहे इस्लामिक मुल्क.. अरब के विमान को यमन ने मार गिराया, अरब ने कहा- इंशाअल्लाह बदला जरूर लेगे

 यमन के सादा प्रांत में शिया हौती विद्रोहियों ने सऊदी अरब के नेतृत्व वाले गठबंधन सेना के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया है। हमले में विमान के दोनों पायलट सुरक्षित है। सऊदी अरब के सरकारी टीवी चैनल अल अरबिया ने इस हमले की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि रविवार को हुए इस हमले में विमान के दोनों चालक सुरक्षित हैं। हौती नियंत्रण वाले टीवी चैनल अल-मशीराह के अनुसार गठबंधन सेना के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया है। यह विमान ब्रिटेन निर्मित है। उन्होंने पायलट के बारे में कोई विस्तृत जानकारी नहीं दी है। हालांकि सऊदी अरब के नेतृत्व की गठबंधन सेना ने इस पर अभी कोई बयान नहीं दिया है।

 

यमन के शिया हौती विद्रोहियों का मानना है कि उन्होंने राजधानी साना के पूर्वोत्तर में सऊदी अरब के नेतृत्व की गठबंधन सेना का लड़ाकू विमान मार गिराया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया कि सना के नेहम जिले में आज सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल से सऊदी अरब के नेतृत्व वाली गठबंधन सेना के जेट विमान को मार गिराया गया है। बता दें कि यदि इसकी पुष्टि हो जाती है तो यह एक महीने से भी कम समय में यमन के विद्रोहियों द्वारा मार गिराया जाने वाला दूसरा लड़ाकू विमान होगा।

यमन में लगातार संकट बना हुआ है. सरकार समर्थित सैनिकों और हूती विद्रोहियों के बीच झड़पे पिछले साल शुरु हुई। मुख्य लड़ाई राष्ट्रपति अब्दरब्बू मंसूर हादी के प्रति वफ़ादार सैनिकों और शिया हूती विद्रोहियों के बीच है। हूती विद्रोही यमन में उत्तरी इलाके के शिया मुसलमान हैं। कहा जा रहा है कि इन्हें देश के पूर्व राष्ट्रपति के वफ़ादार सैनिकों का समर्थन मिल रहा है। हूती विद्रोहियों ने देश के एक बड़े हिस्से पर नियंत्रण कर रखा है जिनमें राजधानी सना भी शामिल है।

विद्रोहियों ने पूरी सरकार को निर्वासन में जाने पर मजबूर कर दिया है। विद्रोहियों का आरोप है कि सरकार में भ्रष्टाचार है और उसने संघीय व्यवस्था के ज़रिए उनके प्रमुख भूभाग को देश से अलग-थलग करने की साज़िश की है। सरकारी सेनाओं को दक्षिणी यमन के कुछ लड़ाकों और पड़ोसी सुन्नी देश सऊदी अरब से सहयोग मिल रहा है। 

Share This Post