‘हालात सही हों, तो उत्तरी कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन से मिलना चाहूंगा’


विवाद के चलते उत्तर कोरिया के नेता अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प से मिलना चाहते है, यह बात खुद डोनल्ड ट्रम्प ने कही है। बता दें कि एक इंटरव्यू में ट्रम्प ने कहा कि अगर किम जोंग सही परिस्थितियों में मिलते है तो मैं उनसे मिलना चाहूंगा। अगर मेरे लिए उनसे मिलना उचित है, तो मैं निश्चित रूप से यह करूंगा।

ट्रंप ने कहा कि ज्यादातर राजनैतिक लोग कभी नहीं कहेंगे कि वे किम से मिलने के लिए तैयार हैं। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन को सबक सिखाने के लिए बैचेन दिखने वाले डोनाल्ड ट्रंप अब उनसे गलबहियां करना चाहते है। इसी का नतीजा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने न सिर्फ किम जोंग की तारीफ की है, बल्कि उनसे मिलने की ख्वाहिश जताई है।

कोरियाई प्रायद्वीप में दक्षिण कोरिया और अमेरिकी नौसेना ने सैन्य अभ्यास शुरू किया, जिसके बाद उत्तर कोरिया ने कड़ी चेतावनी दी। इसके अलावा उत्तर कोरिया अमेरिका पर परमाणु हमले करने की भी चेतावनी दे चुका है। जब अमेरिका ने सीरिया पर हमला करके अपनी पीठ थपथपा रहा था, तब उत्तर कोरिया ने सख्त लहजे में कहा था कि वह वह उसे सीरिया समझने की भूल न करे, वरना उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

वहीं, इससे पहले किम जोंग को ट्रम्प ने बहुत चतुर व्यक्ति कहा था। इसके साथ ही बताते चले की उत्तर कोरिया परमाणु हथियारों को छोटा बनाने की लगातार कोशिश कर रहा है जिनकी लंबी दूरी की मिसाइलों में फिट किया जा सकेगा। इन मिसाइलों की रेंज अमरीका तक पहुंचने की बात कही जाती है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...