टाइटेनिक जैसा हाल हुआ अमेरिका की उस ट्रेन का… पहले ही सफ़र हुआ रक्तरंजित


वाशिंगटन के गवर्नर जे इनस्ली ने घटना के बाद आपातकाल की घोषणा कर दी है कारण हैं एमट्रेक पैसेंजर ट्रेन. अमेरिका के नेशनल रेलरोड पैसेंजर कार्पोरेशन द्वारा संचालित एमट्रेक की यह पैसेंजर ट्रेन है जो हादसे की शिकार हो गई . मीडिया रिपोर्टों में सामने आए घटना के दृश्यों में एक ट्रेन कोच हाइवे पर गिरा हुआ और एक पुल से लटका हुआ मिला. इनके नीचे वाहन भी कुचले जा चुके थे.बताया जाता है कि इस ट्रेन में 78 यात्री और चालक दल के पांच सदस्य सवार थे.

सिएटल और पोर्टलैंड, ओरेगन को जोड़ने वाले मार्ग पर चलने वाली यह ट्रेन एक नई हाईस्पीड रेल सेवा का हिस्सा है. यह हादसा सुबह पौने आठ बजे हुआ. उस समय यातायात व्यस्त था. आपको बता दे की वाशिंगटन स्टेट की राजधानी टोकामा और ओलंपिया के बीच लगभग आधे रास्ते पर यह ट्रेन पटरी से उतरी. सीएनएन के मुताबिक, रेलगाड़ी के 14 डिब्बों में से 13 डिब्बे ओवर पास से नीचे हाईवे पर गिर गए। पिर्यस काउंटी शेरिफ कार्यालय के प्रवक्ता एड ट्रॉयर और वाशिंगटन स्टे पैट्रोल के मुताबिक, इस घटना में सिर्फ रेल यात्री ही हताहत हुए हैं और यह घटना काफी भयावह है।

ट्रॉयर ने कहा कि कई लोगों की मौत हुई है लेकिन अभी वह मृतकों की सही संख्या के बारे में नहीं बता सकते। अस्पतालों और क्लिनिक के गैरलाभकारी नेटवर्क मल्टीकेयर हेल्थ के मुताबिक, इलाज के लिए 22 लोगों को अस्पताल ले जाया गया है। शेरिफ कार्यालय के मुताबिक, रेलगाड़ी के डिब्बे हाईवे पर गिरने से कई वाहन हाईवे पर कई वाहन फंसे हुए हैं और कई घायल भी हुए हैं लेकिन हाईवे पर मौजूद वाहनों सवारों में से कोई भी हताहत नहीं हुआ है।

प्रशासन के मुताबिक, 77 लोगों को अस्पताल ले जाया गया है, इनके वे लोग भी शामिल हैं, जो दुर्घटना के बाद डिब्बों से बाहर निकलने में कामयाब रहे। रेलगाड़ी में सवार एक यात्री का कहना है कि उनकी बोगी पटरी से उतर गई और सभी यात्री यहां-वहां गिर गए।एमट्रेक के प्रवक्ता ने बताया कि जिस वक्त यह दुर्घटना हुई, उस समय लगभग 78 यात्री और चालक दल के पांच सदस्य मौजूद थे। एमट्रेक के अध्यक्ष का कहना है कि इस घटना में कंपनी सकते में है। वाशिंगटन के गवर्नर जे इनस्ली ने घटना के बाद आपातकाल की घोषणा कर दी।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share