भारत देश से महान कोई देश नहीं और सनातन धर्म के समान कोई और धर्म नही : अमेरिकी लेखक

वाशिंगटन : लो अब को अमेरिका ने भी कह दिया कि भारत देश से महान कोई देश नही और सनातन धर्म के समान कोई और धर्म नहीं है। यह बात प्रसिद्द लेखक प्रॉली ने कही है जो अमेरिका के रहने वाले है। प्रॉली ने भारत के इतिहास और धर्म के बारे मे शोध किया है इनका मानना है की सनातन धर्म से बडकर कोई धर्म नहीं। 
डा प्रॉली ने जब सनातन धर्म पर शोध किया तो उन्होनें सनातन धर्म ही अपना लिया। डा. प्रॉली का कहना है की दुनिया में कोई भी देश भारत देश की बराबरी नही कर सकता है। प्रॉली का कहना है की जब अरब और यूरोप के इलाके में लोगों को भाषा का बोध नही था तब भारत में हिंदुओ ने कई वेद लिखे डाले उनका कहना था कि ऐसी कोई किताब या धर्मग्रन्थ नहीं जो की ऋग्वेद से पुराना हो।
उनका यह भी कहना कहना है कि जब दुनिया को यह भी ज्ञात नही था की भाषा क्या होती है, तब भारत में गुरूकुल में शिक्षा दी जाती थी। यहीं नही जब दुनिया में लोगों को यह भी नहीं पता था कि घर क्या होते है तब भारत में सभ्यताएं और छोटे छोटे राज्य बन गऐ थे। इसी के साथ डा. प्रॉली कहते है की सनातन र्धम ही एक मात्र र्धम है लोगो ने देश का विसतार तो सनातन र्धम को देखकर किया है।
Share This Post