भारत में घुसना चाह रहा था चीन.. चीन में घुस गया इंडोनेशिया..चीन सागर के हिस्से को बताया अपना इलाका


भारत से भिड़ना चीन को कितना भारी पड़ रहा है इसका अंदाज़ा उसको अब जरूर हो रहा होगा . शक्तिशाली भारत को आमने सामने देख कर उन सभी देशों ने हाथ खोल दिए हैं जो कभी चीन की घुड़की से दबे रहते थे .. वियतनाम , ताइवान जैसे देशों ने लम्बे समय बाद चीन को ऑंखें तरेरी हैं तो अब इंडोनेशिया ने सीधे सीधे चीन को ऐसी चुनौती दे डाली है जो शायद उसके लिए जले पर नमक के समान हो ..

भारत की सफल विदेश नीति का सबसे बड़ा उदाहरण यहाँ देखने को मिला है जब कभी चीन के ऊपर अमेरिकी विमानों ने उड़ान भरी तो कभी श्रीलंका ने चीन को अपने बंदरगाह इस्तेमाल करने से रोक दिया .. इस बार जो तीर चला है वो बिलकुल सटीक निशाने पर लगा है . इंडोनेशिया ने उस इलाके को अपने नक़्शे में दिखा कर उसका नाम चीन सागर से बदल कर नार्थ नटूना सी रख दिया जिसे चीन हमेशा से अपने देश का अभिन्न अंग बता रहा था ..

चीन को इंडोनेशिया की इस हरकत से बेहद छटपटाहट महसूस हो रही है . उसने इंडोनेशिया को ऐसी हरकत से बाज आने की नसीहत दी है तो इंडोनेशिया ने चीन को सीधे सीधे अपनी सीमा में रहने या गंभीर परिणाम भुगतने की चुनौती दे डाली है .. इंडोनेशिया से पहले फिलीपींस ने भी चीन के इलाके को अपना इलाका बता कर उस समुद्र का नाम बदल दिया है जो चीन अपनी बपौती मानता था .. यहाँ ध्यान देने योग्य ये भी है की जिस इलाके को इंडोनेशिया अपना बता कर अपने नक्शे में शामिल कर चूका है वो इलाका खनिज तेल और प्र्रकृतिक गैस आदि से पूर्ण युक्त है  जिसके कारण इंडोनेशिया को अमेरिका का भी समर्थन मिला हुआ है …. 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share