Breaking News:

1 पत्थर मारने वालों को दो गोलियों से जवाब दे रहा इजराइल…4 पत्थरबाज फिलिस्तीनी और मरे

देश के दुश्मनों के साथ किस तरह का सलूक करना चाहिए, देश की एकता तथा अखंडता से खिलवाड़ करने वालों ससे किस भाषा में बात करनी चाहिए, भारत को या किसी भी मुल्क को ये इजराइल से सीखना चाहिए. इस्लामिक आतंकियों के खिलाफ आक्रामक कार्यवाई के लिए संपूर्ण इस्लामिक जगत का दुश्मन माने जाने वाले इजराइल ने एक बार फिर फिलिस्तीनी उन्मादियों के खिलाफ वही रुख अपनाया है जो वह हमेशा से अपनाता रहा है.

आपको बता दें कि इजराइली सेना ने फिलिस्तीनी पत्थरबाजों के पत्थर का जवाब गोली से दिया है तथा 4 पत्थरबाजों को मार डाला है. फ़िलिस्तीनी इन्फ़ामेश्न सेन्टर की रिपोर्ट के अनुसार ज़ायोनी शासन के सैनिकों ने वापसी मार्च पर एक बार फिर पाश्विक गोलीबारी की जिसमें अब तक चार फ़िलिस्तीनी लोगों की मौत हुई है और दर्जनों घायल हुए हैं. इस सप्ताह के वापसी मार्च का स्लोगन था “ग़ज़्ज़ा डटा है और झुकने वाला नहीं है.”

खबर के मुताबिक़, वापसी मार्च पर इस्राईली सैनिकों ने बेतहाशा फ़ायरिंग की और आंसू गैस के गोले फ़ायर किए तथा इजराइली सैनिकों की इस गोलीबारी में 4 फिलिस्तीनी मारे गये. ज्ञात रहे कि 30 मार्च से शुरू हुई वापसी मार्च के नाम से फ़िलिस्तीनियों की रैली में अब तक ज़ायोनी सैनिकों की फ़ायरिंग में 200 से अधिक फ़िलिस्तीनी मारे जा चुके हैं जबकि 22 हज़ार से अधिक घायल हुए हैं. यह रैली हर शुक्रवार को ग़ज़्ज़ा और इस्राईल की सीमा पर निकाली जाती है.

Share This Post