Breaking News:

इटली की मीडिया का दावा.. बालाकोट में भारत के विमानों के हमले से घायल 45 आतंकी अभी भी हैं पाकिस्तानी अस्पतालों में

ये वो सच है जिसको पाकिस्तान भले ही स्वीकार कर रहा हो लेकिन वोटबैंक के लालाच में कुछ ऐसे भारतीय नेता ही हैं जो अब तक अस्वीकार कर रहे हैं . भारत की सेना के शौर्य तक को कटघरे में मात्र कुछ पाकिस्तान परस्त लोगों के वोटों के लिए संदिग्ध बताने वालों को अब जवाब आया है इटली की मीडिया से जिसने वो सब सही बताया जो भारत की एयरफोर्स ने कहा था.. अफ़सोस की बात ये है कि इस बात का समर्थन करने के बजाय कुछ अभी से खोज रहे होंगे इसकी काट ..

साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ उतारे गये कई साधुओं को एहसास हो गया कि वो क्या कर रहे.. जारी हुआ एक वीडियो

विदित हो कि पाकिस्तान के तमाम दावों पर कहर की तरह गिरती एक खबर इटली से आई है .. बालाकोट में मात्र पेड़ गिरने की बात करने वाले पाकिस्तान को चौंकाते और शर्मिंदा करते हुए इटली की मीडिया ने दावा किया है कि भारत के लड़ाकू विमानों द्वारा पाकिस्तान के ऊपर की गई एयर स्ट्राइक एकदम सफल थी और उसमे भारी संख्या में आतंकियों की मौत हुई थी . इतना ही नहीं दावा ये भी है कि उसी हमले के घायल हुए कई आंतकियो के इलाज़ अभी भी पाकिस्तान के अस्पतालों में चल रहे हैं .

एक पवित्र नगरी जिसने नापाकों के लिए लगाया नोटिस और कहा कि – “इधर मत दिखना”

इटली की नामी और वरिष्ठ पत्रकार फ्रेंसेसा मैरिनो ने इस बात का दावा करते हुए बताया है कि अभी भी लगभग 45 पाकिस्तानी आतंकी उसी हमले में घायल होने के बाद जिन्दगी और मौत से पाकिस्तान के अस्पतालों में इलाज़ करवा रहे हैं . इस पूरे तथ्य को उन्होंने वहां की नामी वेबसाईट stringrasia.it पर भी प्रकाशित किया है . उन्होंने लिखा है कि भारत की वायु सेना ने तडके लगभग तीन बज कर 30 मिनट पर पाकिस्तान पर हमला किया था और शिंक्यारी फौजी कैम्प से पाकिस्तानी सेना की टुकड़ी वहां लगभग 6 बजे वहां गई थी .

साधारण से सरकारी हॉस्पिटल में इलाज करा रहे एक व्यक्ति को घेर लिया लोगों ने, और दौड़ने लगे डॉक्टर व सभी.. क्योंकि उन्हें पता ही नहीं था कि ये कौन है

उन्होंने ये भी दावा किया है कि अस्पताल में भर्ती करने के बाद भी लगभग 20 आतंकियों की मौत अस्तपाल में हो चुकी है बाकी तमाम जिन्दगी और मौत से जूझ रहे हैं . पाकिस्तान फ़ौज उन सभी आतंकियों को अपनी कस्टडी में रखे हुए है और वहां किसी का जाना प्रतिबंधित है . इटली की पत्रकार ने मरने वाले आतंकियों की संख्या लगभग 200 के आस पास बताई है . दावे में ये भी कहा गया है कि मरने वालों में ११ आतंकियों के ट्रेनर थे और मरे आतंकियों के घर जा कर मुआवजा भी दिया गया है .

वो विश्वास करती थी जुनैद पर और चली गई उसके साथ अपनी बहन के घर.. लेकिन वो घर नहीं बल्कि कहीं और ले गया, फिर न विश्वास बचा न इज्जत

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post