Breaking News:

खालिस्तानियों की पाकपरस्ती बनी पाकिस्तानी सरदारों के लिए आफत.. सिख लड़की को जबरन उठाकर बना दिया गया मुसलमान

खालिस्तानी उन्मादियों की पाकिस्तान परस्ती पाकिस्तान में रहने वाले सरदारों के लिए आफत बनती जा रही है. एकतरफ गोपाल चावला जैसे खालिस्तानी लोग पाकिस्तानी सत्ताधीशों तथा हाफिज सईद जैसे इस्लामिक आतंकियों से मिलकर खुद तो मौज उड़ा रहे हैं, लेकिन इसकी कीमत वहां के आम सिखों को चुकानी पड़ रही है. पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिन्दुओं की तरह ही अल्पसंख्यक सिखों पर इस्लामिक मजहबी उन्मादी कहर बरपा रहे हैं, उनके घर की बहन-बेटियों का अपहरण कर जबरन धर्मान्तरण करा मुसलमान बना रहे हैं.

जिस “गया” में हैं हिन्दुओं और बौद्धों के तीर्थ, उसी को रंगने की तैयारी थी रक्त से.. निशाने पर हर वो, जिसके तन पर है भगवा

मामला पाकिस्तान के ननकाना साहिब का है जहाँ गुरूद्वारे में ग्रंथी के तौर पर सेवा देने वाले सरदार जी की बेटी का अपहरण कर उसका जबरन धर्मांतरण और निकाह करा दिया गया है. गुरु नानक जयंती से कुछ दिन पहले ही हुई इस घटना से पाकिस्तान के सिख और अल्पसंख्यक पूरी तरह स्तब्ध हैं. ननकाना साहिब पुलिस थाने में दर्ज एफआईआर के मुताबिक 28 अगस्त को गुरुद्वारा तम्बू साहिब में ग्रंथी के तौर पर सेवा देने वाले एक शख्स की बेटी को जबरन इस्लाम में धर्मांतरित कराया गया और फिर उसकी शादी मोहम्मद अहसान नाम के शख्स से करा दी गई.

इंस्पेक्टर की हत्या के आरोपियों को जमानत मिली तो विरोध, लेकिन गौ हत्यारे महबूब अली को जो सुप्रीम कोर्ट से मिला उस पर ख़ामोशी.. और बुलंदशहर में बुलंद हुआ सेकुलरिज्म

लड़की के छोटे भाई का कहना है कि ननकाना साहिब से अहसान और अन्य लोगों ने 27 अगस्त की रात को उसकी बहन का अपहरण कर लिया था. यही नहीं लड़की की एक सिख युवक के साथ सगाई भी हो चुकी थी. युवती के भाई ने बताया, ‘वह हमारी बड़ी बहन के घर पर गई थी, जिसके पति बिजनस ट्रिप पर फैसलाबाद गए थे. इसी दौरान रात में करीब 2 बजे हथियारबंद लोगों ने घर पर हमला बोल दिया और सभी को मारने की धमकी देते हुए एक कमरे में बंद कर दिया. इसके बाद बंदूक की नोक पर वे लोग बहन को किडनैप करके ले गए.’

कक्षा 9 की बच्ची को नहीं छोड़ा हवस की आग में जलते ईसाई पादरी ने.. बनाया था प्रार्थना का बहाना

पीड़िता के भाई के मुताबिक पुलिस ने भी उनकी शिकायत को नजरअंदाज करने की कोशिश की थी. उसने दावा किया कि हमारे परिवार को यह भी कहा गया कि हम गुरु नानक की 550वीं जयंती के उत्सव को ध्यान में रखते हुए इस मुद्दे को न उठाएं. पीड़िता के कथित निकाह का एक विडियो भी पाकिस्तान में वायरल हो रहा है, जिसमें वह भयभीत नजर आती है. बता दें कि इससे पहले पाकिस्तान के ही सिंध और खैबर पख्तूनख्वा प्रांतों में भी हिंदू और सिख युवतियों की किडनैपिंग और जबरन शादी की कई घटनाएं सामने आई हैं.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

Share This Post