एक देश जहां 9 साल की बच्ची से किया जाता है अस्थाई विवाह और सेक्स के बाद फिर सौंप दिया जाता है घर वालों को


अपनी हवस मिटाने के लिए 9 साल की मासूम बच्ची के साथ अस्थाई विवाह करने तथा फिर उस मसूम के साथ सेक्स करने के बाद उस बच्ची को छोड़ देने की ये खबर इस्लामिक मुल्क ईराक की है. सबसे बड़ी बात ईराक में 9 साल की मासूम बच्चियों के साथ अस्थाई विवाह की पैरोकारी वो इस्लामिक मौलाना कर रहे हैं जो खुद को समाज सुधारक बताते हैं, दीनी तालीम देने वाला बताते हैं

मीडिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़, बीसीसी (ब्लाइंड कार्बन कॉपी) की एक डॉक्यूमेंट्री में गोपनीय तरीके से इस्लामिक मौलानाओं का एक वीडियो फिल्माया है जिसमें 9 साल की बच्ची के साथ शारीरिक संबंध बनाने को उचित बताया जा रहा है. वीडियो में एक मौलाना कहता नजर आ रहा है कि 9 साल की बच्ची से अस्थाई संबंध बनाना उचित है. इसमें मौलाना कह रहे हैं कि 9 साल की बच्ची के साथ शारीरिक सुख के  अस्थाई विवाह किया जा सकता है, फिर उनको छोड़ा भी जा सकता है.

इस शो में प्रजेंटेटर जोआना गोसलिंग ने बताया कि कुछ शिया मुसलमान महिलाओं को पैसे देकर अस्‍थायी विवाह कर रहेे हैं. इस तरह के विवाह को प्‍लेजर मैरिज या निकाह मुता के नाम से जाना जाता है. ‘प्लेजर मैरिज’ या निकाह मुता एक विवादास्‍पद धार्मिक प्रथा है. जिसका उपयोग शिया मुसलमान अस्‍थायी विवाह के लिए करते हैं और इसके लिए महिलाओं को पैसे दिए जाते हैं. अब इस विवाह का उपयोग मुस्लिमों को संभोग करने की अनुमति देने के लिए किया जा रहा है.

इसमें शादी की अवधि कितनी भी छोटी हो सकती है. ऐसा भी कहा जा सकता है कि ‘प्‍लेजर मैरिज’ केवल एक घंटे के लिए भी हो सकती है. डॉक्यूमेंट्री में बताया गया है कि एक मौलवी प्‍लेजर मैरिज के उन अनुबंधों के बारे में बात कर रहा है जो पुरुषों को बलात्‍कार का लाइसेंस देते हैं. वीडियो में वो मौलवी कह रहा है, शरिया के अनुसार इसमें कोई दिक्‍कत नहीं है. जिस तरह से मौलवी ने इसका पक्ष लिया है वो इस बात को साफ़ करता है कि ये सब बलात्कार को जायज ठहराने की कोशिश है.

इसी डॉक्यूमेंट्री में इस्लामिक मौलानाओं ने शादी के लिए कमसीन लड़की को खोजने की बात कही. इस दौरान उसने तस्वीर भी पेश की और पूछा कब आ रहे हो अब वह तुम्हारी है और तुम उसे पैसे दे दो. इस दौरान अस्थाई विवाह करने वाली लड़कियों ने बताया कि कुछ मौलाना उन्हें कॉन्ट्रासेप्टिव इन्जेक्शन भी मुहैया कराते हैं ताकि वह गर्भवती न हों. अस्थाई विवाह के लिए लोग अब छोटी बच्चियों की डिमांड करते हैं. साथ ही इस बात को लेकर आश्वासन मांगते हैं कि  बच्ची वर्जिन हो.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share