खुल कर “इस्लामिक आतंकवाद” बोलने वाले डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि मिलने वाली है बहुत बड़ी खुशखबरी.. कहीं यही तो नहीं थी ?

भारत के सबसे बड़े दुश्मन और आतंक की फैक्ट्री मसूद अजहर की मौत की खबर आने के बाद ही देश ही नहीं दुनिया भर के लोगों को उछल जाना पडा . राष्ट्र का ये वो दुश्मन था जिसकी मौत की खबर सुनने के लिए देश के करोड़ों के कान तरस रहे थे . पाकिस्तान की तरफ से यद्दपि अभी आधिकारिक पुष्टि की घोषणा बाकी है लेकिन ये तय माना जा रहा है कि दुर्दांत आतंकी अब नहीं रहा .

ज्ञात हो कि भारत की एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने कहना शुरू कर दिया था कि मसूद अजहर बीमार है और वो चलने फिरने लायक नहीं है . जबकि सत्य ये था कि वो भारत की वायुसेना के हमले में बुरी तरह से घायल हुआ था . सूत्रों से ये भी पता चल रहा है कि उस समय वो एक कैम्प में सो रहा था जहा से उसको भागने का मौका नहीं मिला .

इसी खबर के साथ अब एक बात और सामने आने लगी है . अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कुछ दिन पहले ही भारत पाकिस्तान के तनाव के मुद्दे पर कहा था कि जल्द ही एक खुशखबरी आने वाली है जिसका सभी इंतजार करें . अब दुर्दांत इस्लामिक आतंकी मसूद अजहर की मौत के बाद ये कयास लगाए जाने शुरू हो गये हैं कि खुल कर इस्लामिक आतंक का नाम लेने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कहीं इसी खुशखबरी की बात तो नहीं कर रहे थे जिसमे मसूद अजहर की मौत की खबर सबके सामने आनी हो . फिलहाल इस खबर के बाद अचानक ही पाकिस्तान में मायूसी देखने को मिल रही है .

Share This Post