Breaking News:

सीमा पर बढ़ रहे पाकिस्तानी फौजी, उन्ही के साथ तैयारी कर रहा कोई और भी…. उधर एक इस्लामिक मुल्क ने बेचा उसको हथियार ..

इन्ही तेवरों को देखते हुए ही भारत की सेना ने कल पाकिस्तान को साफ साफ कहा था कि अगर इस बार जंग लड़ी तो सन १९७१ से भी बुरा हाल होगा उनका और मिलेगा ऐसा सबक कि उनकी कई पीढियां करेंगी याद.. लेकिन वो पाकिस्तान ही क्या जो बिना अपनी औकात दिखाए शांति से मान जाए . इसलिए उसने अपने तेवरों को ढीला नहीं छोड़ा है और तैयारी कर रहा उस भूल की जो शायद उसकी अंतिम भूल भी साबित होगी .. एक बार फिर से माहौल हो रहा है बेहद गर्म और तनावपूर्ण ..

इसी समय पाकिस्तान को एक इस्लामिक मुल्क इजिप्ट से मिले हैं मिराज़ विमान . यद्दपि ये विमान बेहद पुराने हैं और इनका चलन बहुत पहले ही बंद जैसा हो गया था.. पाकिस्तान ने नई पैंतरेबाजी करते हुए सीमा से सटे बाघ और कोटली सेक्टर में 2000 से ज्यादा सैनिकों को तैनात किया है। यह स्थान नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में स्थित है। भारतीय सेना के सूत्रों ने जानकारी देते हुए बताया कि इन सैनिकों को बैरकों से निकालकर एलओसी के 30 किलोमीटर के दायरे में तैनात किया गया है।उन्ही पाकिस्तानी फौजियों की मदद करने के लिए लश्कर और जैश जैसे इस्लामिक आतंकियों के समूहों ने POK और अफगानिस्तान सीमा पर अपने आतंकी कैम्पों में भर्तियाँ तेज कर दी हैं .. इन आतंकियों की ही ताकत को पाकिस्तान की असली ताकत माना जाता है जिसमे कई आत्मघाती हमलावर भी है .

पाकिस्‍तान वायुसेना अपनी ताकत बढ़ाने के लिए मिस्र से 36 मिराज फाइटर जेट्स को खरीदने की योजना बना रही है. EurAsian Times के अनुसार, पाकिस्‍तान के लिए इन मिराज को मिस्र में अपग्रेड किया जा रहा है. इनको खरीदने की प्रक्रिया अंतिम चरण में पहुंच चुकी है. माना जा रहा है कि भारत के साथ बढ़ते तनाव के चलते पाकिस्‍तान इस सौदे को जल्‍द से जल्‍द फाइनल करना चाहता है. यद्दपि इसका कोई भी मुकाबला राफेल से नहीं है ..  राफेल को भारत की जरूरत के हिसाब से कंपनी ने तैयार किया है. ये 4.5वीं जेनरेशन का फाइटर जेट है. राफेल परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है.

Share This Post