कुलभूषण जाधव को ईरान से अपहरण कर पाकिस्तान ने दिया है मृत्यदंड जबकि भारत में पकडे गये 6 बंगलादेशियो को मिली है मात्र इतनी सज़ा


हर कोई जानता है एक इस्लामिक मुल्क पाकिस्तान द्वारा अपहरण किये गये भारत के पूर्व नौ सैनिक कुलभूषण जाधव के साथ हो रहा पाकितान में व्यवहार . उनको किसी भी हालत में फांसी देने पर आमादा पाकिस्तान ने उनको दिया है अंतहीन प्रताड़ना और अगर बीच में अन्तराष्ट्रीय न्यायालय नहीं होता तो अब तक यकीनन उनको जबरन फांसी दिलाते हुए सरकारी हत्या की जा चुकी होती . लेकिन जानिये क्या हुआ जब धर्मनिरपेक्ष भारत में ६ बंगलादेशी अवैध रूप से पकड़े गये तो ..

विदित हो कि भारत में अवैध रूप से रह रहे ६ बंगलादेशियो को न्यायालय ने 4 साल की सजा सुनाई है . इस मामले में फैसला देते हुए अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एनएच मखरे ने पिछले सप्ताह दिए अपने आदेश में प्रत्येक दोषी पर पांच-पांच हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया. ये घटना मुंबई  से सटे थाणे क्षेत्र की है . वो मुंबई जो पहले से ही आतंकियो के निशाने पर रही है और ताज होटल की घटना आज भी सबके मन में डर की सिरहन पैदा कर जाती है .  स्थानीय अदालत ने भारत में अवैध रूप से रहने के दोषी छह बांग्लादेशियों को चार साल कैद की सजा सुनाई है. अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एनएच मखरे ने पिछले सप्ताह दिए अपने आदेश में प्रत्येक दोषी पर पांच-पांच हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया.

सरकार की तरफ से पेश अभियोजन पक्ष ने अदालत को बताया कि प्राप्त सूचना के आधार पर एटीएस ठाणे ने मार्च, 2018 में भिवंडी कस्बे के एक आवासीय भवन पर छापेमारी कर छह बांग्लादेशियों को गिरफ्तार किया जो वैध दस्तावेजों/पासपोर्ट के बगैर रह रहे थे. एटीएस ने जिन छह लोगों को गिरफ्तार किया, उनमें.. पियारो हुसनैल शेख (22), माणिक फरीद शेख (20), फारूक सैफुल आलम शेख (20), सुबुजी मुजीद शेख (22), मोहम्मद बिलाल मोहम्मद महाबुल आलम शेख (22) और मोहम्मद अल अमीन मोहम्मद यूसुफ मिया इस्लाम (20) शामिल हैं. इन सभी के खिलाफ विदेशी और पासपोर्ट कानून के तहत मामले दर्ज किए गए थे.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...