Breaking News:

राफ़ेल को देख सकने में सक्षम रडार माँगा था पाकिस्तान ने चीन से.. चीन का जवाब दुनिया को बता गया नये भारत का स्वरूप


जिस युद्धक विमान का भारत में आने से पहले सबसे ज्यादा विरोध विदेश में नहीं बल्कि देश मे ही हुआ और तमाम कोशिश की गई कि फ्रांस के साथ चल रही उस डील को इतना कुप्र्चारित किया जाय की उस पर कोई नकारात्मक असर पड़ जाए , अब उसी राफ़ेल की हैसियत का अंदाज़ा पाकिस्तान के डर से लगाया जा रहा है जो अपने देश के बजाय चीन से गुहार लगा रहा है ऐसा अस्त्र देने की कि वो राफेल से लड़ न सही बल्कि कम से कम एक बार उसको देख तो ले..

राफ़ेल मामले में पाकिस्तान में छाए डर का एक नजारा दुनिया ने तब देखा जब पाकिस्तानी फ़ौज चीन से गुहार लगाने गई ये कह कर की उन्हें वो रडार बेच दिया जाय जो राफेल को ट्रेस कर सके और देख सके.. लेकिन उसके बाद चीन जैसे गद्दार और धोखेबाज देश ने पाकिस्तान को जो जवाब दिया उसको भारत की सफल विदेश नीति का एक बड़ा सार्थक रूप माना जा रहा है ..चीन ने राफेल को ट्रेस कर पाने में सक्षम रडार पाकिस्तान को देने से साफ़ साफ़ मना कर दिया है ..

राफेल के खौफ से दहशत में दिख रहे परेशान पाकिस्तान ने अपने दोस्त और दुनिया भर में गद्दारी के लिए कुख्यात चीन से उधार विमान मांगा. लेकिन चीन ने विमान को उधार देने से साफ़ साफ़ इनकार कर दिया. बावजूद इसके एक बार फिर पाकिस्तान ने चीन के सामने अपग्रेडेड रडार और एयरक्राफ्ट की मांग रखी है. लेकिन पाकिस्तान के लिए सदमे का विषय ये रहा है कि इस बार भी चीन ने पाकिस्तान की मांग को मानने से इनकार कर दिया है. इसके बाद पाकिस्तान की सारी उम्मीदें ध्वस्त जैसी हो गईं है .


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share