मनीष कमाने गया था इस्लामिक मुल्क कुवैत.. लेकिन अब उसके साथ हो रहा वो सब कुछ जो उसने सोचा भी नही था


पैसा कमाने के उद्देश्य से बिहार के गोपालगंज के महम्मदपुर थाना क्षेत्र के देवकुली गांव का रहने वाला  मनीष इस्लामिक मुल्क कुवैत चला गया. उसे बताया गया था कि कुवैत में काम करके उसे अच्छी आमदनी हो जाया करेगी और फिर वह एजेंट के माध्यम से कुवैत चला गया. लेकिन अब कुवैत में मनीष के साथ जो हैवानियत तथा बर्बरता की जा रही है, उसका उसे अंदाजा भी नहीं था.

चुनाव खत्म होने से पहले ही कांग्रेस में उभरने शुरू हुए स्वर.. गुलाम नबी आजाद का ये बयान सुनिए

आपको बता दें कि मनीष को कुवैत में बंधक बना लिया गया है तथा उससे जबरन काम करवाया जा रहा है. बर्बरता की सारी हदें पार करते हुए मनीष के साथ मारपीट की जा रही है, उसे सिगरेट से दागा रहा है. मनीष के परिजनों के अनुसार वह भारत वापस आना चाहता है लेकिन जिन्होंने मनीष को बंधक बनाया है, वह उसको वापस नहीं आने दे रहे हैं तथा इसके बदले में मनीष से 5 लाख रूपये की मांग की जा रही है. मनीष के परिजनों के मुताबिक़,  वीडियो कॉलिंग कर मनीष को प्रताड़ित किए जाने की तस्वीर मनीष की पत्नी को दिखाया जा रहा है.

एक ऐसा देश जो लगाने जा रहा मस्जिदों पर टैक्स..बोला -“बहुत जरूरी है ये हमारे भविष्य के लिए”

मनीष को प्रताड़ित करते देखने के बाद उसकी पत्नी और उसके परिजनों ने जेडीयू के प्रदेश महासचिव पूर्व विधायक मंजीत कुमार सिंह से मिलकर मदद की गुहार लगाई है. पूर्व विधायक की पहल पर युवक की पत्नी ने जिलाधिकारी अनिमेष कुमार पराशर को पत्र लिखकर घटना की जानकारी देते हुए अपने पति के घर वापसी के लिए मदद मांगी है. मनीष की पत्नी खुशबू देवी ने बताया कि उनके पति दिसंबर 2018 में मुंबई से कुवैत के मुशाबत रेस्टोरेंट सिटी अलजहरा काम करने गए थे.

घरों को छोड़ कर जंगलों में पहुँचे श्रीलंकाई मुसलमान.. किसी और देश मे घुसने की फिराक में

लेकिन उनके पति को वहां बंधक बना लिया गया है. काफी दिनों से जब उनके पति का फोन नहीं आया तो चिंता होने लगी. कुछ दिन बाद कुवैत से उसके मोबाइल नंबर पर वीडियो कॉल कर उनके पति को दिखाया गया.  जिसमें उनके पति का हाथ पैर बंधा हुआ था उसके साथ मारपीट की जा रही थी. कुवैत से वीडियो कॉल करने वाले का नाम मौला हैृ. कॉल करने वाला व्यक्ति उनके पति को मुक्त करने के लिए 2300 कुवैती दीनार यानि करीब 05 लाख रुपए की मांग कर रहा है.

जांबाज़ अभिनंदन के मामले में जिस पाकिस्तान को “इमरान गैंग” बता रही थी करुणा का सागर , उसी अभिनंदन के साथ हुआ था ये सब वहां

खुशबू ने बताया है कि रुपया नहीं देने पर उसके पति मनीष को जान से मारने की धमकी दी जा रही है. पूर्व विधायक मंजीत सिंह ने कहा कि पीड़ित के साथ मारपीट और बंधक बनाकर सिगरेट से दागने की सूचना जिला पदाधिकारी को दी गयी है.  डीएम अनिमेष कुमार पराशर से भारत सरकार के विदेश मंत्रालय को अवगत करा जल्द से जल्द वतन वापसी की गुहार लगाई गयी है. डीएम ने इस मामले में त्वरित करवाई का आश्वासन दिया है.

पाकिस्तानी डाक्टर मुज़फ्फर ने पूरे गाँव को लगाया एड्स का इंजेक्शन.. अब उस गाँव में हैं 500 HIV पीड़ित. जानिए क्यों किया उसने ऐसा ?

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...