Breaking News:

एक और इस्लामिक मुल्क की सीमाओं पर इजरायल बढ़ा रहा है अपनी सेना.. क्या अब एक नए देश में दिखेगी तबाही ?

एक बार फिर से दुनिया के तमाम देशो में बिछ रही है युद्ध की बिसात जिसमे ज्यादातर देशो के आगे कोई न कोई इस्लामिक मुल्क है . यहाँ भारत के आगे आये दिन पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से युद्ध जैसे हालात पैदा करता रहता है तो वहीँ पर खाड़ी में सऊदी अरब आये दिन यमन पर हमले किया करता है . अफगानिस्तान में तालिबान और अमेरिकी अधिकारियो की वार्ता विफल हो रही है तो सीरिया में तुर्की और रूस आदि आये दिन युद्धरत दिखाई देते हैं . वहीँ अब खुलने लगा है एक नया मोर्चा .

इस्लामिक आतंक से सबसे मजबूती से लड़ रहे दुनिया के अग्रणी देशो में से एक इजरायल ने पहले तो फिलिस्तीन के दावे को खत्म करते हुए अपने नये दूतावास को वहां खोला जिसके लिए विवाद था.. अमेरिका ने भी इजरायल की दृढ़ता देखी और वो उसके साथ खड़ा हो गया.. अब फिलिस्तीन को काबू करने के बाद इजरायल ने नया मोर्चा खोल दिया है एक अन्य इस्लामिक मुल्क लेबनान के खिलाफ जो दुर्दांत आतंकी समूह हिजबुल्लाह का मुख्य संरक्षक माना जाता रहा है

राजनीति की भगवा सुनामी. कांग्रेस का मुस्लिम विधायक शामिल हुआ शिवसेना में, हाथ में थामा भगवा ध्वज.

इजरायल ने अपने फौजों का जमावड़ा लेबनान की सीमा पर बढा दिया है और उसके फाइटर जेट की भी दिशा लेबनान की ही तरफ मुड गई है . इजरायल के इस नए रुख से एक बार लेबनान सहम सा गया है क्योकि निर्णायक लड़ाई के मूड में दिखने वाले इजरायल ने अभी हाल में ही लेबनान पर ड्रोन हमले किये थे.. रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, इस्राइली सेना ने कहा कि पिछले सप्ताह में उसके “जमीनी बलों, वायु, नौसेना और खुफिया बलों ने उत्तरी कमान क्षेत्र में विभिन्न परिदृश्यों के लिए अपनी तैयारी में सुधार किया।

जिस राफेल पर विवाद करके कम की गई थी एयरफोर्स की ताकत, अब वही राफेल आ रहा है चीन व पाकिस्तान के आगे अड़ने के लिए

इजरायल से लड़ने के लिए आतंकी दल हिजबुल्लाह ने भी कमर कस ली है . इसके नेता सैय्यद हसन नसरल्लाह ने एक भाषण में कहा कि लेबनान की संप्रभुता का उल्लंघन करने वाले इजरायली ड्रोन का मुकाबला करने के लिए सभी विकल्प खुले थे।हिजबुल्लाह ने बेरूत में दुर्लभ हमले के लिए इज़राइल को दोषी ठहराया है, और कहा कि यह जवाबी कार्रवाई करेगा। हिजबुल्लाह ने बेरूत में दुर्लभ हमले के लिए इज़राइल को दोषी ठहराया है, और कहा कि यह जवाबी कार्रवाई करेगा।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

Share This Post