Breaking News:

जानिए कैसे भूस्खलन के दलदल में समाई 200 से ज्यादा जिंदगियां?

बोगोटा : दक्षिण अमेरिकी देश कोलंबिया के दक्षिण-पश्चिमी सीमावर्ती प्रांत पुतुमायो में भारी बारिश के बाद भूस्खलन से अब तक 254 लोगों की मौत हो गई है, जिसमें 43 बच्चे भी शामिल है। जबकि सैकड़ों लोग जख्मी हो गए हैं। हादसे में 220 लोग लापता भी बताए जा रहे हैं। भारी बारिश होने से नदियां ओवरफ्लो हो गईं, जिसके बाद यह घटना हुई। घरों और सड़कों पर कीचड़ भर जाने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

वहीं, राष्ट्रपति जुआन मैनुएल सैंटोस ने चेतावनी दी है कि मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है। राष्ट्रपति ने बचाव कार्यों का निरीक्षण करने के लिए शहर की यात्रा की। उन्होंने कहा कि दुभार्ग्यवश अभी भी ये शुरुआती आंकड़े हैं। हम सभी के लिए प्रार्थना करते हैं। पीड़ितों के परिवारों के साथ हमारी संवेदना और पूरे देश की सहानुभूति है। जानकारी के मुताबिक, भूस्खलन से सबसे अधिक प्रभावित दक्षिण पश्चिम शहर मकोवा हुआ है जो अमेजन के भारी बारिश वाले वन क्षेत्र में है। कोलंबियाई रेड क्रॉस ने बताया कि करीब 300 परिवार प्रभावित हुए हैं और 25 मकान नष्ट हो गए हैं।

इससे पहले पुलिस कमांडर कर्नल उमर ने बताया कि अब तक हमने 193 शव बरामद किये हैं जिसमें वयस्क, महिलायें और बच्चे शामिल हैं। वहीं, प्रांत के मेयर जोस अंटोनियो कास्त्रो ने कहा कि घंटो हुई भारी बारिश के कारण कई नदियां लबालब भर गयी थीं, जिसके बाद राजधानी मकोआ की सड़कों और घरों में कीचड़ भर गया। उन्होंने कहा कि यह एक बड़ा इलाका है। कई घरों का एक बड़ा हिस्सा भूस्खलन की चपेट में आ गया। हालांकि, लोगों को इसकी चेतावनी दी गयी थी और उन्हें अपने घरों से निकलने के लिए पयार्प्त समय था लेकिन इससे कई घर इसकी चपेट में आ गये।

बता दें कि शुक्रवार को कोलंबिया के मोकोवा में मूसलाधार बारिश हुई। इसके बाद दक्षिण कोलंबिया के मोकोवा शहर में बड़े पैमाने पर भूस्खलन हुआ। भूस्खलन ने पूरे इलाके में तबाही मचा दी। कोलंबिया के प्रेसिडेंट जुआन मैनुअल सांतोस ने मारे गए लोगों के परिवारों के लिए अफसोस जताया है। उन्होंने कहा कि यह घटना दिल दहलाने वाली है। हम सभी विक्टिम्स की हरसंभव मदद करने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि रेस्क्यू वर्क जारी है। ऑफिशियल्स लापता लोगों को तलाशने का काम तेजी से कर रहे हैं। इस काम में करीब 1100 सोल्जर्स लगे हुए हैं।

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW