लन्दन के एक शॉपिंग मॉल में कत्ल हुआ एक भारतीय का.. नाम आ रहा पाकिस्तानी

ब्रिटेन की राजधानी लन्दन से एक भारतीय युवक की क्रूरतम ह्त्या का मामला सामने आया है. घटना बुधवार रात की है जब लंदन के एक मॉल के पास भारतीय युवक की चाकुओं से गोदकर ह्त्या कर दी गई. मृतक भारतीय युवक की पहिचान मोहम्मद नदीमुद्दीन के रूप में हुई है, जो हैदराबाद का रहने वाला था. बर्कशायर के टेस्को सुपरमार्केट की पार्किंग में सुरक्षा गार्ड ने उसे मृत पाया. वह यहीं काम करता था. हत्या के पीछे एक पाकिस्तानी नागरिक पर शक है, जो इसी सुपरमार्केट में काम करता था. पुलिस उससे पूछताछ कर रही है.

पति थे नक्सली, अब बीवियों ने पहनी वर्दी.. नारी शक्ति की वो प्रतीक जिन्हें जान कर गर्व होगा आपको

मीडिया सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक़, दीमुद्दीन के करीबी रिश्तेदार की ओर से बताया गया है कि नदीमुद्दीन  बर्कशायर के टेस्‍को सुपरमार्केट में काम करता था जो वेलिंगटन स्‍ट्रीट पर है. नदीम के फैमिली फ्रेंड फहीम कुरैशी की ओर से बताया गया है, ‘उनके माता-पिता और उनकी पत्‍नी भी लंदन में ही रह रहे हैं. जब नदीम काफी देर तक ड्यूटी से वापस नहीं लौटे तो घरवालों ने सुपरमार्केट में फोन किया.

आखिर भगवान गणेश क्यों विराजमान हैं संसार के सबसे बड़े इस्लामिक मुल्क की मुद्रा पर ? जानिए और सबको बताइये

सुपरमार्केट के कर्मचारी सिक्‍योरिटी गार्ड के साथ मॉल में उन्‍हें तलाशने गए और यहीं पर पार्किंग में उन्‍हें नदीम का शव मिला. ‘शुक्रवार को पोस्‍टमार्टम किया गया और शक है कि नदीम की हत्‍या पाकिस्‍तान के नागरिक ने की है जो उनके साथ ही सुपरमार्केट में काम करता था. नदीम हैदराबाद के कॉलेज से ही ग्रेजुएट हुए थे और साल 2012 में लंदन गए थे। यहां पर उन्‍हें एक सुपरमार्केट में नौकरी मिल गई और फिर उनके माता-पिता भी उनके साथ रहने लगे. फहीम ने कहा, ‘उनकी पत्‍नी आएशा जो एक डॉक्‍टर हैं, 25 दिन पहले ही लंदन गई थीं। वह गर्भवती हैं और अब भारत वापस नहीं आ सकती हैं क्‍योंकि नियमों के तहत उन्‍हें ट्रैवल करने की मंजूरी नहीं होगी.’

इस्लामिक मुल्क अफगानिस्तान में गोलियों से भून डाली गई महिला पत्रकार. उनके काम को घोषित किया गया था “नाकाबिले बर्दाश्त”

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

 

Share This Post