Breaking News:

कई मुस्लिम लड़के गिरफ्तार हो चुके हैं हिन्दू नाम रखने वाले.. अब एक मुस्लिम महिला पकड़ी गई हिन्दू के नाम से

अभी तक यही देखने में आता था कि कट्टरपंथी मुस्लिम लड़के किसी न किसी नापाक साजिश को अंजाम देने के लिए हिन्दू नाम रख लेते हैं. ऐसे कई मुस्लिम लड़के गिरफ्तार भी हो चुके हैं जिन्होंने गुमराह करने के लिए हिन्दू नाम रखे हुए थे. लेकिन ये पूरा सच नहीं है. पूरा सच ये हैं कि मुस्लिम लड़के ही नहीं मुस्लिम लड़कियां भी हिन्दू कानून से खिलवाड़ करने के लिए, क़ानून को धोखा देने के लिए हिन्दू नाम रखती हैं.

ऐसी ही एक महिला उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से गिरफ्तार हुई है, जिसने हिन्दू महिला के नाम से फर्जी पासपोर्ट बनवा लिया था. मुस्लिम महिला ने हिंदू महिला के रूप में गांव में पता दर्ज कराया, लेकिन उसकी पोल तब खुल गई, जब भारत-बांग्लादेश सीमा पर जांच में अन्य अभिलेखों के आधार पर उसका पासपोर्ट फर्जी पाया गया. मामला एसपी के दफ्तर में आया तो उसकी जांच में पूरी हकीकत सामने आई. दोषी महिला के खिलाफ विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी गई है.

खबर के मुताबिक़, बांग्लादेशी महिला सोनी खातून ने सोनी कुमारी पत्नी संदीप कुमार निवासी टीकरी खुर्द के नाम से पासपोर्ट के लिए आवेदन किया. इसमें पुलिस अधिकारियों पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं जिन्होंने सोनी खातून के पासपोर्ट दस्तावेजों पर पॉजिटिव रिपोर्ट लगा दी. रिपोर्ट के आधार पर सोनी कुमारी के नाम से पासपोर्ट बन गया. अपने घर बांग्लादेश जा रही थी. बार्डर पर उसके अभिलेखों की जांच में पाया गया कि भारत से बनाया गया उसका पासपोर्ट फर्जी था, जबकि वह बांग्लादेश की रहने वाली थी. बांग्लादेश में यह महिला चांदन महल ढिढौलिया चटगांव की रहने वाली है.

इसके पश्चात बार्डर से एसपी हाथरस के लिए पत्र आया। पत्र के आधार पर दरोगा राजीव कुमार ने गांव जाकर प्रकरण की जांच की तो पाया कि सोनी कुमारी गांव में है ही नहीं. इसके आधार पर उसके खिलाफ धोखाधड़ी और कूटरचित कागज तैयार कर पासपोर्ट बनवाने की रिपोर्ट दर्ज की गई है. प्रकरण की जांच सीओ कर रहे हैं. जांच में ही उजागर होगा कि आखिर किस उद्देश्य से बांग्लादेशी महिला गांव में आई और फर्जी पासपोर्ट तैयार कराने के पीछे क्या मकसद रहा. क्या वह किसी देशविरोधी गतिविधि में लिप्त थी या तस्करी के उद्देश्य से ऐसा किया गया.

Share This Post