नवाज शरीफ अचनाक हुए शरीफ… मीटिंग बुला कर किया हाफिज का संगठन बैन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात से पाकिस्तान टेंशन में आ गया है। पाकिस्तान को डर है कि ट्रंप प्रशासन उसके खिलाफ सख्त रवैया अपना सकता है और उसके खिलाफ कई कड़े कदम उठा सकता है। इसी बात के डर से नवाज शरीफ ने एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई है। नवाज की इस हाई लेवल मीटिंग में वित्त मंत्री इशाक दार और विदेश मंत्रालय के दूसरे बड़े अधिकारी शामिल है।
जानकारी के मुताबिक, ये मीटिंग भारत और पाकिस्तान के रिश्तों, कश्मीर और एलओसी पर होने वाली गतिविधियों के लिए रखी गई है। इतना ही नहीं अफगानिस्तान के बॉर्डर को लेकर भी इस मीटिंग में जिक्र होगा। बता दें कि मोदी-ट्रंप की मुलाकात के बाद से ही पाकिस्तान ने बड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही भारत के सबसे बड़े दुश्मन हाफिज सईद की पार्टी तहरीक-ए-आजादी जम्मू और कश्मीर को पाक में बैन कर दिया गया है।
बताया जा रहा है कि इस माटिंग में विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज पीएम नवाज को कई मामलों की जानकारी भी देंगे। बता दें कि अमेरिका, अफगानिस्तान में अपने ठिकानों पर हो रहे आतंकी हमलों से खफा है। सबको पता है कि अफगानिस्तान में आतंकी हमलों के पीछे पाकिस्तान का हाथ है। इसलिए अमेरिका, पाकिस्तान पर आतंकियों पर शिकंजा कसने के लिए दबाव बना सकता है।
Share This Post