कौन यकीन करेगा इस नई कहानी पर कि कैसे पकड़ा उन्होंने अभिनंदन को ? डर ये कि कहीं उनके चेहरे से बहता लहू बन न जाए पाकिस्तान के लिए सैलाब


भारत के नए राष्ट्रीय हीरो बन कर सामने आ रहे अभिनंदन के चेहरे से बहता खून कहीं वो सैलाब न बन जाए जिसके आक्रोश में पाकिस्तान का वजूद ही खतरे में पड़ जाए , इसके लिए अब पाकिस्तान के अधिकारियो ने नई नई कहानियां गढ़नी शुरू कर दी है . लगातार झूठ की बुनियाद पर चल रहे पाकिस्तान ने अब एक ऐसा झूठ बोला है जिसमे अभिनंदन को ही दोषी बनाने की साजिश रची गयी है जबकि वहां से आये वीडियो में साफ़ साफ पाकिस्तानियों की दरिंदगी दिख रही है .

ज्ञात हो कि अपनी नई गढ़ दी गयी कहानी में पाकिस्तान ने बताया है कि कैसे उसने विंग कमांडर अभिनंदन को गिरफ्तार किया है . पाकिस्तान ने एक चश्मदीद को सामने खड़ा करते हुए उस से कहलवाया है कि लभग 8 बजकर 45 मिनट सुबह 58 वर्षीय मोहम्मद रज्जाक चौधरी ने भारत पाकिस्तान की सीमा से लगभग 7 किलोमीटर दूर आसमान से आती एक तेज आवाज सुनी. वो दौड़ कर बाहर निकले तो उन्होंने आसमान से एक आग का गोला गिरता देखा .

ये आग का गोला उस भारतीय विमान के बारे में बताया जा रहा है जो विंग कमांडर अभिनन्दन उड़ा रहे थे . इसके बाद मोहम्मद रज्ज़ाक ने कहा कि उन्होंने अपने घर से 1 किलोमीटर दूर एक व्यक्ति को पैराशूट से उतरते देखा . असल में ये विंग कमांडर अभिनन्दन थे . पाकिस्तान द्वारा इसके आगे गढ़ी कहानी में बताया गया कि पैराशूट से उतरे सैनिक की तरफ कई पाकिस्तानी बढ़े तो मोहम्मद रज्जाक उन्हें रोकने लगे और उसकी तरफ जाने से मना करने लगे .

आगे बताया गया कि भारतीय सैनिक ने खुद को घिरा देख कर वहां के लोगों से सवाल किया कि ये भारत की कौन सी जगह है तो उनको जवाब मिला कि ये जगह पाकिस्तान में है . हैरानी की बात ये है कि पाकिस्तान के अधिकारियो के अनुसार उस जगह लोगों से घिरा होने के बाद भी अभिनंदन ने भारत के समर्थन में नारे लगाए . इतना ही नहीं पाकिस्तानी अधिकारियो के अनुसार भारतीय विंग कमांडर ने खुद के लिए उन लोगों से पानी माँगा .. जबकि वीडियो में साफ दिख रहा कि उस जगह काफी पानी बह रहा था जो पीने योग्य भी दिख रहा था .

आगे बताई कहानी में पाकिस्तान कहता है कि भारत के समर्थन और पाकिस्तान के विरोध में लगाए गये नारों को वहां की जनता ठीक नहीं समझी और उसका विरोध किया . झूठ की अंतिम हद तक बोलते हुए पाकिस्तानी अधिकारी बताते हैं कि पाकिस्तान विरोधी नारों का विरोध करने के बाद अभिनंदन ने अपनी पिस्टल निकाल ली और हवा में फायर किया . ये गोली अभिनन्दन ने पाकिस्तानियों द्वारा पाकिस्तान जिंदाबाद कहने के बाद चलाई ऐसा बताना हास्यस्पद है और हैरान कर देने वाला भी .

इसके बाद पाकिस्तानी अधिकारियो ने बताया कि लोगों की भीड़ जमा होने के बाद भारतीय पायलट भागने लगा और लगभग आधे किलोमीटर भागा होगा . पीछे से लोग उसका पीछा करते रहे . पीछा करते लोगों की तरफ भारतीय पायलट ने पिस्टल तानी जबकि  हर वीडियो में अभिनंदन की पिस्टल उनकी कमर में लगी देखी गयी .. फिर उसके बाद पाकिस्तानियों के अनुसार पायलट को लोगो ने पकड लिया और पीटने लगे . उसके बाद वहां पाकिस्तानी फ़ौज आई और अभिनंदन को गिरफ्तार कर के ले गयी . ये हैरान कर देने वाली कहानी का एक भी हिस्सा वायरल हुए वीडियो से मेल नहीं खा रहा है . लेकिन पाकिस्तान अपनी कहानी को अपने हिसाब से गढ़ कर दुनिया के आगे चिल्लाता जा रहा है . इस कहानी से वो ये बताना चाह रहा कि उसके दरिन्दे लोगों द्वारा घायल किया गया अभिनन्दन अपनी गलती से घायल हुआ है लेकिन सच क्या है ये दुनिया जानती है .


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share