वो बदनाम कर रहे भारत को संसार भर में.. NIA की गिरफ्त में श्रीलंका ब्लास्ट के आतंकी का साथी

श्रीलंका आतंकी हमले को लेकर एक ऐसा चौंकाने वाला खुलासा हुआ है, जिससे पूरी दुनिया में भारत की साख पर सवाल खड़े होते हुए नजर आ रहे हैं. अभी तक जिस काम के लिए दुनिया में पाकिस्तान बदनाम है, वही स्थिति भारत के सामने खड़ी हो गई है. खबर के मुताबिक़, श्रीलंका ब्लास्ट का भारत का कनेक्शन सामने आ रहा है. भारत की जांच एजेंसी NIA ने श्रीलंका ब्लास्ट के मुख्य साजिशकर्ता को गिरफ्तार किया है.

आज ही हुआ था छत्रपति शिवाजी महाराज का राज्याभिषेक.. संपूर्ण विश्व ब्रह्माण्ड के समस्त हिन्दुओ को “हिन्दू साम्राज्य दिवस” की शुभकामनाएं

बता दें कि बुधवार को तमिलनाडु के कोयंबटूर में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NAI) ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) के कोयंबटूर मॉड्यूल के 7 कथित ठिकानों पर छापेमारी की. एनआईए ने इस दौरान मोहम्मद अजहरुद्दीन समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है. अजहरुद्दीन श्रीलंका बम धमाकों के मास्टरमाइंड जहरान हाशिम का फेसबुक फ्रेंड है. एनआईए सूत्रों के मुताबिक, धमाकों के वक्त वह फेसबुक पर एक्टिव था और अपडेट्स ले रहा था.

मुफ्त में मेट्रो पर श्रीधरन का आया जवाब… मोदी को पत्र लिखकर बताया इसका परिणाम

इस दौरान एनआईए को अजहरुद्दीन के पास से 14 मोबाइल, 29 सिम कार्ड, 10 पेन ड्राइव, 3 लैपटॉप, 6 मेमोरी कार्ड, 4 हार्ड डिस्क ड्राइव, 13 सीडी/डीवीडी और 300 एयर गन मिले हैं. इसके अलावा कई दस्तावेज भी मिले हैं. एनआईए मोहम्मद अजहरुद्दीन से पूछताछ कर रही है. NIA को खबर मिली थी कि श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए बम धमाकों के मास्टरमांइड जहरान हाशिम का दोस्त कोयंबटूर मोहम्मद अजहरुद्दीन में कहीं रहता है. बताया जा रहा है कि श्रीलंका में बम धमाकों के वक्त अजहरुद्दीन फेसबुक के जरिए हाशिम के संपर्क में था. दोनों के बीच अक्‍सर बातचीत होती थी. इसी आईएस मॉड्यूल की तलाश में एनआईए ने छापा मारा.

संसार के सबसे ताकतवर देश रूस के सबसे प्रतिष्ठित कार्यक्रम ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम में मुख्य अतिथि होंगे पीएम नरेंद्र मोदी

बता दें कि इससे पहले मई में भी एनआईए ने तमिलनाडु में 10 जगहों पर छापे मारे थे. उस समय भी एनआईए ने आईएस के संदिग्ध आतंकियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. बता दें कि श्रीलंका में ईस्टर के दिन हुए बम धमाकों में 11 भारतीय समेत 258 लोगों की मौत हो गई थी. इसके अलावा श्रीलंका में हुए धमाकों केरल मॉड्यूल का नाम भी सामने आया है. आईएस केरल मॉड्यूल में 21 युवा शामिल हैं, जो जून 2016 में वैश्विक प्रतिबंधित आतंकी संगठन के लिए लड़ने अफगानिस्तान गए थे. इससे पहले साल में ये लोग कुरआन पर एक कोर्स अटेंड करने गए थे. इसमें एक अश्फाक मजीद भी शामिल था, जिसके पिता मुंबई में एक मोटेल चलाते हैं.

इस्लामिक बैंक का नाम सुनते ही जमा सुनते ही जमा हो गये थे अरबों रूपये.. लेकिन उन्हें पता नहीं था कि आगे क्या होने वाला है

ज्ञात हो कि श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार इस्लामिक आतंकी हमलों के लिए श्रीलंकाई सरकार ने हाशिम को मुख्य आरोपी माना है. उसपर आईएस से जुड़े इस्लामिक समूह नेशनल तौहिद जमात (एनटीजे) की अगुवाई करने का आरोप लगाया है. श्रीलंकाई खुफिया अधिकारियों और प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे का मानना है कि हाशिम संभवत: हमले का मास्टरमाइंड हो सकता है. इसी से जुड़े मामलों की छानबीन में एनआईए दक्षिण के कई इलाकों में छापेमारी कर रही है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW