ये अमेरिका है, जो दुश्मन का पूरा खानदान खत्म करता है. आतंकी ओसामा के बाद अब शुरू की उसके बेटे की तलाश. सद्दाम का भी खानदान किया था खत्म

आतंकियों को घेर कर मारना ही नहीं उसको जड़ से उखाड़ कर फेंकने के लिए जो दृढ़ता अमेरिका ने दिखाई है वो शायद ही कहीं और व् कोई और देश दिखा पाया हो . ये वही अमेरिका है जिसके पहले राष्ट्रपति ने ईराक में सद्दाम हुसैन से जंग लड़ी और बाद में उसी जंग को आगे जार्ज बुश ने बढ़ा कर अपने से पहले राष्ट्रपति का बदला सद्दाम हुसैन को बेरहम मौत दे कर लिया था . इतना ही नहीं अमेरिका  ने जंग में सद्दाम से पहले उसके दोनों बेटे उदय और कुशय को भी मार डाला था .. उसी क्रम से अब अमेरिका ने नम्बर लगाया है आतंकी ओसामा बिन लादेन का .

अब उस अमेरिका ने एक बार फिर से कमर कसी है एक और खानदान खत्म करने के लिए . संसार के सबसे बड़े आतंकी ओसामा बिन लादेन को पाकिस्तान में उसके ही घर में घुस कर ढेर कर देने वाले अमेरिका का भी मन नहीं भारत है और औसने अब निशाने पर लिया है ओसामा बिन लादेन के बेटे को . ज्ञात हो कि अमेरिका के दबाव में आख़िरकार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने अमेरिकी हमले में मारे गए अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा बिन लादेन का नाम अपनी प्रतिबंध सूची में डाल दिया है।

इस प्रतिबन्ध के बाद अब हमजा की चल अचल सम्पत्ति आदि जब्त हो जायेगी और उसको भी शायद ठिकाने लगा दिया जाएगा . हमजा को अलकायदा के मौजूदा सरगना अयमान अल जवाहिरी के ”सबसे संभावित उत्तराधिकारी” के रूप में देखा जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 आईएसआईएस एवं अलकायदा प्रतिबंध समिति ने बृहस्पतिवार को 29 वर्षीय हमजा के नाम को सूची में डाल दिया। इसी दिन, अमेरिका ने हमजा के संबंध में सूचना देने वाले को 10 लाख डॉलर का इनाम देने की घोषणा की। सऊदी अरब ने भी शुक्रवार को घोषणा की कि उसने हमजा की नागरिकता रद्द कर दी है।

Share This Post