नमाजियों से भरी मस्जिद में फिर घुसे बंदूकधारी.. जुमे के दिन मार डाला 16 मुसलमानों को.. एक और देश जहाँ मस्जिद पर हमला


कुछ समय पहले सुदर्शन न्यूज के प्रधान सम्पादक श्री सुरेश चव्हाणके जी ने बिंदास बोल कर के पूरे प्रमाणों और अकाट्य तथ्यों के साथ बताया था की दुनिया में मुस्लिम समाज और ईसाई समाज के बीच ऐसी दूरी बनती जा रही है की ये जल्द ही एक धर्मयुद्ध का रूप ले सकता है . न्यूजीलैंड की मस्जिद पर हुए हमले के बाद इसको बाकायदा जमीनी सतह पर देखा भी गया था लेकिन अब जो कुछ भी हुआ है उसके बाद ये कहना गलत नहीं होगा की मुहर लग रही है सुरेश चव्हाणके जी के बताये गये एक एक शब्द पर..

विदित हो कि पहले आस्ट्रेलियाई प्रायद्वीप में न्यूजीलैंड को चुन कर वहां मस्जिद में घुस पर मुसलमानों का नरसंहार किया गया. उसके बाद यूरोप के कई देशो में मुस्लिमों की मस्जिदों पर हमले किये गये, चीन अपने देश में मस्जिदों को सरकारी रूप में ढहा रहा है लेकिन अब इसी क्रम में अफ्रीका भी सामने आया है जहाँ पर शुक्रवार के जुमे के दिन नमाजियों से भरी एक मस्जिद के अन्दर घुसे बंदूकधारी हमलावरों ने अंधाधुंध गोलियां बरसा कर कम से कम 16 मुसलमानों की जान ले ली है .

इस हमले के बाद अचानक ही वहां अफरातफरी मच गई और जिसको जिधर भी जगह मिली वो उधर ही भागने लगा.. संयुक्त राष्ट्र संघ तक ने इस हमले पर खेद जताया है और दोषियों को कड़ी सजा की वकालत की है..  पश्चिम अफ्रीका स्थित देश बुर्किना फासो में शनिवार को एक मस्जिद पर हुए हमले में 16 लोगों की हत्या कर दी गई और दो लोग घायल हो गए। अन्य घायलों की हालात नाजुक है.. पुलिस के मुताबिक, शुक्रवार शाम सालमोसी में हथियारबंद लोगों ने ग्रैंड मस्जिद पर हमला कर दिया। इस हमले के बाद सालमोसी निवासी कई मुसलमान परिवार इतनी दहशत में आ गये की वो अपने घर छोड़ कर भाग गए।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...