जमीन में पड़े गड्डे और छाती में लगे घाव से कराह करके पाकिस्तान ने भी माना- “हां हुआ है हम पर हमला”

आज सुबह जैसे ही हिंदुस्तान सोकर उठा तो ऐसा लगा कि कुछ बड़ा हुआ है. वैसे तो पुलवामा आतंकी हमले के बाद से ही ये कहा जा रहा था कि कुछ बड़ा होने वाला है. प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी कई बार ये दोहरा चुके थे कि देश विश्वास रखे, पुलवामा का बदला लिया जाएगा. सेना अपने अनुसार समय तथा जगह तय करेगी. हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी कहा था कि पुलवामा हमले के बाद भारत चुप नहीं बैठेगा बल्कि कुछ बड़ा करेगा और आज ये बड़ा हो गया.

सर्द रात के बाद सुबह जब हिंदुस्तान की जनता की आंख खुली तो कुछ हलचल सी महसूस हुई. टीवी पर पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ कफूर का ट्वीट दिखाया जा रहा था, जिसमें उन्होंने कहा था कि मुजफ्फराबाद सेक्टर में भारतीय विमानों के घुसपैठ की कोशिश की तथा बालाकोट के पास कुछ बम गिराए. इसमें कोई हताहत नहीं हुआ है. इसके बाद लोगों को लगा कि काफी दिनों से जिस कुछ बड़ा होने की बात की जा रही थी वो बड़ा आज हो गया है. धीरे धीरे स्थिति साफ़ होती चलाई गई कि भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर इस्लामिक आतंकी कैंपों पर बम बरसाए हैं, जिसमें 300 से ज्यादा आतंकी मारे गये है.

जमीन में पड़े गड्डे, आतंकियों की बिखरी लाशें तथा छाती में लगे घाव से कराहते हुए पाकिस्तान ने दबी जुबान में स्वीकार किया कि हाँ हम पर हमला हुआ है तथा भारतीय वायुसेना ने किया है. फिलहाल पाकिस्तान शर्मिन्ध्गी से बचने के लिए बालाकोट से हमले के सबूत मिटाने में लगा हुआ है. बताया जा रहा है कि बालाकोट आतंकी कैंप में 25 टॉप कमांडर सहित एक बार में कम से कम 300 आतंकी रहते थे. अब जब ये आतंकी कैंप पूरी तरह से तबाह हो गया है तो समझा जा सकता है कि कितने आतंकी मारे गये होंगे.

Share This Post