एक और हिंदुस्तानी सरबजीत की राह पर, उसका नाम ‘कुलभूषण जाधव’ सजा-ए-मौत

इस्लामाबाद : पाकिस्तानी जेल में बंद भारतीय कैदी कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाई गई है। बता दें कि कुलभूषण को 3 मार्च, 2016 को बलूचिस्तान के मश्केल क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया था। पाकिस्तान ने कुलभूषण के खिलाफ आतंकवाद और विध्वंस का आरोप लगाया था। पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कुलभूषण को मौत की सजा सुनाए जाने की पुष्टि की है।

पाक में पाकिस्तान आर्मी एक्ट के तहत कुलभूषण के खिलाफ कोर्ट मार्शल की कार्रवाई की गई थी। पाकिस्तान ने कहा कि रॉ के एजेंट और नेवी अफसर कमांडर कुलभूषण जाधव को मौत की सजा सुनाई गई है। उन पर पाकिस्तान के खिलाफ विध्वंसक गतिविधियां चलाने और जासूसी करने का आरोप था। हालांकि, भारत ने इन सभी आरोपों को खारिज किया था। बातया जा रहा है कि जाधव को अपना पक्ष रखने का कोई भी मौका नहीं मिला और पाकिस्तान की कोर्ट ने उसके खिलाफ सजा सुना दी।

गौरतलब है कि इससे पहले पाकिस्तान ने 6 मिनट का एक वीडियो जारी किया था। जिसमें जाधव को स्वीकार करते हुए दिखाया गया था कि वो रॉ के एजेंट है और वो अभी भी भारतीय नौसेना के साथ है। भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर जारी बयान में कहा गया था कि गिरफ्तार व्यक्ति के बयान से साफ संकेत मिलता है कि यह सिखा पढ़ा कर तैयार कराया गया वीडियो है और हमें उसकी सलामती की चिंता है। 

Share This Post