पाकिस्तानी रक्षा मंत्री का बयान.. हमारी एयरफोर्स लड़ सकती थी भारत के लड़ाकू विमानों से अगर लाइट का जुगाड़ हो जाता तो

भारतीय वायुसेना द्वारा LOC पार कर पाकिस्तान में घुसकर इस्लामिक आतंकी संगठन जैश ए संगठन के आतंकी शिविरों पर भीषण बमबारी के बाद पाकिस्तान में हडकंप मचा हुआ है. भारतीय वायुसेना की इस कार्यवाई के बाद भारत में जहाँ जश्न मनाया जा रहा है तो वहीं पाकिस्तान में मातम पसरा हुआ है. इस बीच भारतीय वायुसेना की इस कार्यवाई पर पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने चौकाने वाला बयान दिया है. पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने बयान दिया है कि अगर लाइट का प्रबंध होता तो हमारी एयरफोर्स भारतीय कार्यवाई का जवाब दे सकती थी.

जी हाँ.. सुबह से पाकिस्तान खुलकर इस बात को ठीक से स्वीकार नहीं कर पा रहा था कि भारत के सुरक्षा बलों ने पाकिस्तान में घुसकर बम बरसाए हैं. लेकिन अब पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ने इस बात को स्वीकार कर लिया है. लेकिन जिस तरह से इमरान खान के रक्षा मंत्री ने भारतीय एयरफोर्स की कार्यवाई पर बयान दिया है, उससे वह तथा पाकिस्तानी एयरफोर्स मजाक का पात्र बन गई है. पाक रक्षा मंत्री ने कहा है कि हमारी एयरफोर्स भारतीय कार्यवाई का जवाब दे सकती थी लेकिन अंधेरे के कारण हम कुछ समझ नहीं पाए. उन्होंने कहा है कि लेकिन अगली बार भारत के ऐसी कार्यवाई की तो हम जवाब देंगे.

पाकिस्तानी रक्षा मंत्री के इस बयान का सीधा मतलब है कि अगर अँधेरा न होता तथा वहां पर लाइट होती तो हम भारतीय एयरफोर्स से लड़ने की कोशिश करते. पाकिस्तानी रक्षा मंत्री अपने इस बयान के कारण सोशल मीडिया पर मजाक का पत्र बन गये हैं. बता दें भारतीय वायुसेना के इस ऑपरेशन में 12 मिराज 2000 लड़ाकू विमान ने हिस्सा लिया और एलओसी के पार आतंकी कैंपों पर 1000 किलोग्राम के बम गिराए. वायुसेना के हवाई हमलों में एलओसी के पार बालाकोट, चाकोटी और मुजफ्फराबाद में आतंकी लॉन्च पैड्स पूरी तरह से नष्ट हो गए. जैश-ए-मोहम्मद का कंट्रोल रूम भी नष्ट कर दिया गया. भारतीय वायुसेना की इस कार्यवाई में जैश के 25 से ज्यादा टॉप कमांडरों सहित 300 से ज्यादा इस्लामिक आतंकी मारे गये हैं.

Share This Post