Breaking News:

भारत में भले ही मलाला के ढेरों फैन, पर पाकिस्तानी सांसद ने मलाला की पूरी कहानी को बताया नाटक

नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई पर हुआ तालिबान हमला रचा गया नाटक था। ये बात कहीं पाकिस्तान की महिला सांसद ने। बता दें कि 2012 में 19 साल की मलाला पाकिस्तान में तालिबान के हमले का शिकार हुई थीं और ब्रिटेन में उनका इलाज किया गया था। इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ की सांसद मुसर्रत अहमदजेब ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि मलाला पर हमला का नाटक पहले से ही रच गया था।

मुसर्रत ने कहा कि मलाला के सिर में गोली मारी गई लेकिन स्वात में हुए सीटी स्कैन में उनके सिर में कोई गोली नहीं मिली। परंतु हां, पेशावर के सीएमएच अस्पताल में दाखिल होते ही उनके सिर में गोली पहुंच गई। उन्होंने आरोप लगाया कि मलाला का इलाज करने वाले डॉक्टरों को सरकार ने जमीन दी थी। मुसर्रत ने कहा कि एक अमेरिकी तीन महीने तक मलाला के घर में रहा और उनको भविष्य की भूमिका के लिए प्रशिक्षित किया। वहीं, तहरीक-ए-इंसाफ के प्रवक्ता शफकत महमूद ने कहा कि उनकी पार्टी पहले ही अनुशान तोड़ने को लेकर खुद को मुसर्रत से अलग कर चुकी है।

Share This Post