ओवैसी की मांग को इस्लामिक आतंकी दल लश्कर कि चुनौती…दावा किया कि कई हिंदुस्तानी गद्दारों में धड़कता है पाकिस्तान का दिल….

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी मुस्लिमों को रिझाने का कोई भी मौका नहीं छोड़ते है. इस बार उन्होंने भारतीय मुसलमानों को ‘पाकिस्तानी’

कहकर पुकारने वालों के खिलाफ सरकार से कानून बनाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि ऐसे कहने वालों को कम से कम तीन साल कि सजा हो. लेकिन ओवैसी

देश के उन गद्दारों के खिलाफ चुप रहते जो देश का खाकर लश्कर-ए-तैयबा जैसे खूंखार आतंकी संगठन का समर्थन करते है. ज्ञात हो कि लश्कर के कई आतंकियों

को गुजरात, उत्तरप्रदेश, बिहार, दिल्ली आदि राज्यों से पुलिस ने पकड़ा है.

इस संगठन को भारत में आतंक फ़ैलाने के लिए जाना जाता है.आजादी के बाद से कश्मीर का मसला आज तक हल नहीं हो पाया. पाकिस्तानी आतंकी और तमाम कश्मीरी युवा आये दिन भारतीय फ़ौज को निशाना बनाते रहते है.भारतीय तिरंगे कि जगह वहां पाकिस्तान और isis का झंडा फैहराना आम बात है. कुछ कश्मीरी लोगों कि पाकिस्तान परस्त विचारधारा को देखते हुए अब

लश्कर के महमूद शाह जैसे आतंकी खुलकर बोल रहे है, कि तमाम कश्मीरियों का दिल पाकिस्तान के लिए धड़कता है. उन्होंने एक बार फिर उन कश्मीरी युवाओं को

आतंक के लिए प्रोत्साहित किया है, जो दुर्भाग्यवश इनके चंगुल में फंस जाते है.

महमूद शाह ने यहाँ एक बयान में कहा कि कश्मीर एकत दिवस पर लोग पाकिस्तानी झंडे फहराते हैं और वर्षों से कुर्बानियां देते आ रहे हैं.उसने कहा कि

पाकिस्तान, बॉर्डर पर भारतीय सेना के खिलाफ अपनी डयूटी को अच्छे से निभा रहा है कश्मीर के बहुत से युवा सेना पर पत्थर मार रहे है, लोग सरकार के खिलाफ

रैलियां निकालते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं, जिन्हें दबाने के लिए हिंसक कदम उठाये जा रहे है. शाह ने लश्कर-ए-तैयबा का समर्थन करने के लिए आतंकियों का देश कहे

जाने वाले चप्पल चोर पाकिस्तान को अपना सबसे बड़ा दोस्त कहा है.

उसने कहा कि पाकिस्तान की दिफा-ए-पाकिस्तान काउंसिल कश्मीर के लोगों में चाहत पैदा

करने के लिए कश्मीर एकत दिवस का समर्थन करती है, और करती रहेगी. कहा कि कश्मीर एकत दिवस पर वहां के बहुत से लोग पाकिस्तानी झंडे फहराते हैं और

सालों से पाकिस्तान के लिए कुर्बानियां दे रहे हैं. आपको बता दें कि मुंबई हमले के सबसे बड़े दुश्मन हाफिज़ मुहम्मद सईद लश्कर-ए-तैयबा का प्रमुख सरगना है जो

की वर्तमान में पाकिस्तान के लाहौर से अपनी गतिविधियाँ चलाता है, एवं पाक अधिकृत कश्मीर में अनेकों आतंकवादी प्रशिक्षण शिविरों का आयोजन करता है.

Share This Post

Leave a Reply