Breaking News:

सिर्फ बोद्धो के झंडे से ही डर गया चीन जबकी अभी लड़ाई बाकी है…

कुछ दिनों पहले राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के तिब्बत के आध्यात्मिक नेता दलाई लामा से मुलाकात को लेकर भी चीन ने कड़ा एतराज जताया था। भारत-चीन के बीच सिक्किम सीमा विवाद पर तनातनी के बीच चीनी मीडिया ने एक बार फिर धमकी दी है। चीन के सरकारी टैबलॉयड ग्लोबल टाइम्स ने अपने संपादकीय में तिब्बती झंडा फहराए जाने का उल्लेख करते हुए लिखा है कि अगर भारत ने डोकलाम विवाद पर तिब्बत कार्ड खेला तो हिन्दुस्तान खुद जल जाएगा। 
भारतीय मीडिया का हवाला देते हुए, चीनी अखबार ने लिखा है कि “तिब्बती राष्ट्रीय ध्वज, तिब्बत की निर्वासित सरकार द्वारा अपनाया गया आजादी के पहले का एक प्रतीक है, जिसे बंगोंग झील के किनारे फहराया गया था। इसे भारत में लोग पैंगोंग झील कहते हैं जो भारत-चीन सीमा के पास है। लद्दाख में इस झील को सामरिक तौर पर वास्तविक नियंत्रण रेखा के रूप में जाना जाता है। चीनी अखबार ने लिखा है कि यह पहला मौका है, जब उत्तरी भारत में रह रही तिब्बत की निर्वासित सरकार ने यहां झंडा फहराया है।
नई दिल्ली की तरफ निशाना बनाते हुए चीनी अखबार ने लिखा है कि अगर नई दिल्ली तिब्बती बंधुओं द्वारा झंडा फहराकर राजनीतिक कोशिश कर रहा है तो इससे वह खुद जल जायेगा। दोनों सीमा मुद्दे चीन से जुड़े हैं और चीन ऐसे मामलों में चिंतित नहीं होगा। बता दें कि कुछ दिनों पहले राष्ट्रापति प्रणब मुखर्जी के तिब्बत के आध्यात्मिक नेता दलाई लामा से मुलाकात को लेकर भी चीन ने कड़ा एतराज जताया था। 
अखबार ने लिखा है कि भारत जब चीन की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाता है, उस वक्त चीन विरोधी राजनीतिक गतिविधियों को वह मजबूती से नियंत्रित करता है मगर जब चीन के साथ रिश्तों में तल्खी है तब वह चीन विरोधी ताकतों को हवा दे रहा है। अखबार ने यह भी लिखा है कि शायद ऐसा कर भारत निर्वासित तिब्बती सरकार को ज्यादा तवज्जों दे रहा है।
Share This Post