कश्मीर पर भारत की बातचीत क्या और किस मुद्दे पर होगी, इसे बताया केंद्रीय मंत्री श्री जितेंद्र सिंह जी ने… गौरवान्वित होंगे आप

हाल ही में पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में हुए आम चुनावों में इमरान खान की राजनैतिक पार्टी पीटीआई सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है, जिसके बाद पीटीआई प्रमुख इमरान खान का पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनना लगभग तय माना जा रहा है. इमरान खान के पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने के करीब करीब तय तय होने के बाद कश्‍मीर का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है. चुनाव परिणाम सामने आने के बाद इमरान खान ने कश्मीर को लेकर बड़ा देते हुए कहा था कि वह हिंदुस्तान के साथ कश्मीर के मुद्दे पर बातचीत करेंगे, इसके साथ ही इमरान खान ने हिंदुस्तान पर कश्मीर में मानवाधिकार हनन का आरोप लगाया था.

कश्‍मीर पर इमरान के उकसावेपूर्ण बयान के बाद केंद्रीय मंत्री श्री जितेंद सिंह ने एक बड़ा बयान दिया है, एक ऐसा बयान जिसे जानकर आप भी गौरवान्वित होंगे. इमरान खान के बयान पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री श्री जितेंद्र सिंह ने कहा है कि भारत के पास पीओके को वापस लेने के आलवा और कोई विकल्‍प नहीं है. केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा है कि कश्मीर को लेकर सोच में बदलाव लाने और पाकिस्तान को साफ-साफ शब्‍दों में यह बताने का समय आ गया है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्‍मीर को वापस लेने से कम की कीमत पर भारत कोई समझौता नहीं करेगा. उन्‍होंने कहा कि पहले भी कश्‍मीर हमारा था और आज भी कश्‍मीर हमारा है, साथ ही ये भी बता दूं कि कल भी कश्‍मीर हमारा ही रहेगा.

केंद्रीय मंत्री ने कारगिल विजय दिवस के उपलक्ष्‍य में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि भारत के भीतर कश्मीर को लेकर दलीलें देने उन लोगों को बेनकाब करने का समय आ गया है जो कि पाकिस्तान के भारत विरोधी षड्यंत्रों को उकसाते हैं. जितेंद्र सिंह ने कहा कि वह पाकिस्तान को बताना चाहते हैं कि अब पाकिस्तान से जो भी बातचीत होगी, वह कश्मीर नहीं बल्कि POK को लेकर होगी तथा चूँकि कश्मीर हिंदुस्तान का अभिन्न अंग है तो POK भी हिंदुस्तान का ही हिस्सा है. साथ ही जितेंद्र सिंह ने अलगाववादियों को निशाने पर लेते हुए कहा कि पाकिस्तान के साथ उन लोगों को भी जवाब दिया जाना जरूरी हो गए है जो हिंदुस्तान से सुविधाएँ लेकर पाकपरस्ती करते हैं, लेकिन अब ऐसा होने वाला नहीं है.

Share This Post

Leave a Reply