भारत के इस नाम को “शानदार नेता” बता कर कईयों को गौरवान्वित कर गया चीन ..

ये कई भारतीयों के लिए गौरवान्वित करने वाला समय था जब अक्सर विरोध में दिखने वाले चीन ने भारत के पूर्व प्रधानमन्त्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के लिए वो शब्द कहे जो दुनिया के कम से कम चीन द्वारा बहुत कम ही लोगों के लिए प्रयोग होते देखा गया है . ज्ञात हो कि अभी कुछ दिन पहले पूरी दुनिया को भावुक करते हुए देह को त्याग गये श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को चीन ने एक शानदार नेता के नाम से सम्बोधित किया है . 

ये बयान देते हुए चीन के प्रधानमंत्री ली क्यांग ने अटल जी के निधन पर शोक जताया. चीनी प्रधानमंत्री के अनुसार भारत के पूर्व प्रधानमन्त्री अटल बिहारी वाजपेयी ने भारत-चीन संबंधों के विकास की दिशा में उल्लेखनीय काम किया. भारत के सबसे करिश्माई नेताओं और शानदार वक्ताओं में से एक रहे स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी का स्वतंत्रता दिवस के अगले दिन इसी 16 अगस्त को 93 साल की आयु में निधन हो गया था. ली ने 17 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा, “मैं भारतीय गणराज्य के पूर्व प्रधानमंत्री ए बी वाजपेयी के निधन से दुखी हूं.” भारतीय दूतावास ने ली के अनुदित पत्र को ट्वीट किया .

चीन के प्रधानमंत्री ने अपने आगे के बयान में कहा है की , “चीन की सरकार और लोगों की तरफ से मैं शोक-संतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना और सहानुभूति प्रकट करता हूं . ” चीन के प्रधानमंत्री ने कहा, “वाजपेयी एक शानदार नेता थे, जिन्होंने राष्ट्रीय और सामाजिक विकास के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया और भारतीय लोगों का सम्मान हासिल किया. ” उन्होंने कहा कि अपने प्रधानमंत्री काल में वाजपेयी ने 2003 में चीन की यात्रा की . ली ने कहा कि वाजपेयी ने भारत-चीन संबंधों के विकास में उल्लेखनीय काम किया.


 

Share This Post

Leave a Reply