भारत को मिला फ्रेंडशिप डे पर एक ऐसा तोहफा जिसे दुनियाभर में हैरान होकर देखा जा रहा है… दुनिया मान रही मोदी का लोहा


श्री नरेंद्र मोदी जी के प्रधानमन्त्री बनने के बाद दुनिया में भारत की अहमियत बढ़ी है तथा इस बात को दुनिया भी स्वीकार कर रही है. लेकिन कल 5 अगस्त को मित्रता दिवस के अवसर हिन्दुस्तान को एक ऐसा तोहफा मिला है जिसे दुनिया हैरान होकर देख रही है तथा दुनिया में मोदी जी के नेतृत्व में भारत की बढ़ती ताकत तथा कूटनीति का लोहा मान रही है. आपको बता दें कि कल मित्रता दिवस के अवसर दुनिया के सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका ने भारत को एल अलग ही अंदाज में “शोले” फिल्म के गाने के साथ बधाई दी है तथा प्रधानमन्त्री मोदी व राष्ट्रपति ट्रंप को जय और वीरू बताया है.

दरअसल फ्रेंडशिप डे पर अमेरिका ने खास अंदाज में भारत से दोस्ती का इजहार किया है. अमेरिका ने फिल्म शोले के गाने ‘ये दोस्ती’ का जिक्र किया. साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप की फोटो शेयर की है, जिसकी सोशल मीडिया पर खूब चर्चा हो रही है. दोस्ती के मामले में भारतीय सिनेमा की यादगार फिल्म शोले के जय-वीरू की मिसाल अक्सर ही दी जाती है. फिल्म का गाना ‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे’ आज भी लोगों की जुबान पर रहता है.लेकिन शायद ही कोई कह सकता था कि भारत और अमेरिका की दोस्ती के लिए जय-वीरू की मिसाल दी जाएगी. अगस्त महीने के पहले रविवार को मनाए जाने वाले फ्रेंडशिप डे पर अमेरिकी दूतावास की ओर से भारत और अमेरिका की दोस्ती पर ट्वीट किया गया. ट्वीट में हिंदी में लिखा था, ‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेगे.’ इसके आगे ट्वीट में साल 2018 में भारत और अमेरिका के संबंधों के और मजबूत होने की बात कही गई है तथा कहा है कि हम लगातार मजबूत होते भारत अमेरिका संबधों के बीच भारत को मित्रता दिवस की बधाई देते है. इसके अलावा एक अन्य ट्वीट में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर ट्वीट की गई है.

 


ज्ञात हो भारत और अमेरिका के बीच लगातार रक्षा व्यापार बढ़ रहा है.  एशिया में चीन की बढ़ती चुनौती को देखते हुए अमेरिका भारत की अहमियत को बहुत अच्छी तरह समझता है. वहीं भारत भी भविष्य की रणनीतियों को देखते हुए विदेश नीति में अमेरिका को अहम स्थान दे रहा है. यही कारण है कि भारत और अमेरिका की बढ़ती दोस्ती किसी से छिपी नहीं है. हाल ही में भारत को अमेरिका ने स्ट्रेटजिक ट्रेड ऑथराइजेशन में जगह दी है जो अब तक एशिया में सिर्फ जापान और दक्षिण कोरिया के पास थी. इसके बाद भारत के लिए अमेरिका से रक्षा समेत अन्य कई क्षेत्रों में नजदीकियां बढ़ाना और भी आसान हो जाएगा.  इससे पहले अमेरिका भारत को अहम रणनीतिक साझेदार का दर्जा दे चुका है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...