Breaking News:

अमेरिका और रूस से बेइज्जत पाकिस्तान को राहुल गांधी के बयानों का सहारा.. पाकिस्तानी मीडिया की हीरो बनी कांग्रेस


भारत सरकार द्वारा कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद बौखलाए आतंकी मुल्क पाकिस्तान को अमेरिका, रूस, फ़्रांस सहित ज्यादातार मुल्क आईना दिखा चुके हैं तथा उसे भारत के साथ तनाव बढ़ाने को लेकर चेतावनी जारी कर चुके हैं. दुनिया के ज्यादातर मुल्कों से बेइज्जत पाकिस्तान के लिए कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी संजीवनी बनकर उभरे हैं. जो पाकिस्तान दुनियाभर से ठुकराया जा चुका है वो पाकिस्तान कांग्रेस तथा उसके पूर्व अध्यक्ष राहुल के बयानों के सहारे अब भारत के खिलाफ माहौल बनाने की कोशिश कर रहा है.

खबर के मुताबिक़, कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी न सिर्फ पाकिस्तानी मीडिया बल्कि वहां के राजनेताओं के लिए भी पोस्टर बॉय बन चुके हैं. राहुल गांधी को श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोकने की घटना को पाकिस्तान ने फौरन लपका और वहां के हुक्मरान इस पर धड़ाधड़ ट्वीट करने लगे. राहुल गांधी को श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोकने तथा वहां से वापस दिल्ली भेजने को लेकर पाकिस्तानी मीडिया ने भारत के  खिलाफ माहौल बनाना शुरू कर दिया.

ज्ञात हो कि शनिवार को राहुल गांधी विपक्षियों के साथ घाटी का जायजा लेने पहुंचे थे, लेकिन उन्हें एयरपोर्ट से ही वापस दिल्ली भेज दिया गया था. इसके बाद उनका ट्वीट सामने आया, “जम्मू कश्मीर के लोगों की स्वतंत्रता और नागरिक आजादी पर अंकुश लगाए हुए 20 दिन हो गए हैं.” इसके बाद उन्होने लिखा, “विपक्ष और प्रेस को जम्मू कश्मीर का दौरा करने की कोशिश करने के दौरान अहसास हुआ कि राज्य के लोगों पर कठोर बल प्रयोग और प्रशासनिक क्रूरता की जा रही है. विपक्ष के नेताओं और प्रेस को जम्मू-कश्मीर में प्रशासनिक क्रूरता का अहसास हुआ.”

राहुल गांधी का ये बयान सामने आते ही पाकिस्तान की बांछें खिल गईं. पाकिस्तानी मीडिया तथा वहां के नेताओं ने राहुल के बयान को भुनाना शुरू कर दिया तथा भारत के खिलाफ बयानी शुरू कर दी. पाकिस्तान राहुल के कंधे पर बंदूक रख कर सरकार पर हमला बोल रहा है और जम्मू-कश्मीर को लेकर विश्वभर में अफवाह फैला रहा है कि कश्मीर में लोगों पर जुल्म हो रहा है और वहां की सरकार विपक्षी दलों को भी वहां नहीं जाने दे रही है.

पाकिस्तानी अखबार डॉन ने राहुल गांधी के ट्वीट और बयान को प्रमुखता से प्रकाशित किया है. साथ ही पाकिस्तान के विज्ञान और तकनीकी मंत्री फवाद हुसैन ने उनके बयान को लेकर ट्वीट भी किए और आरएसएस और बीजेपी पर निशाना साधा है. फवाद ने ट्वीट कर कहा कि मोतीलाल नेहरू के परपोते, जवाहरलाल नेहरू के पोते, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को उनके पूर्वजों के यहां नहीं जाने दिया गया। यह दिखाता है कि किस तरह आरएसएस और नाजी विचारधारा ने इंडिया पर कब्जा कर लिया है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...