Breaking News:

मोदी की बहरीन यात्रा वरदान साबित हुई उन 250 लोगों के लिए.. विपक्ष को फिर मिला जवाब कि- “मोदी विदेश क्यों जाते हैं”

पीएम मोदी विदेश क्यों जाते हैं, विपक्ष अक्सर ये सजवल खड़े करते रहता है. विपक्ष ही नहीं तमाम कथित कथित बुद्धिजीवी भी पीएम मोदी की विदेश यात्रारों पर निशाना साधते हैं. पीएम मोदी जब जब विदेश यात्राओं पर गए, विपक्ष तथा कथित बुद्धिजीवियों ने न सिर्फ इस पर सवाल उठाये बल्कि पीएम मोदी का मजाक भी उड़ाया. लेकिन पीएम मोदी की इन विदेश यात्राओं से देश को क्या फायदा हुआ है, पीएम मोदी विदेश क्यों जाते हैं, इन सवालों का बी उन 250 लोगों ने दिया है, जिनके लिए पीएम मोदी की बहरीन यात्रा वरदान साबित हुई है.

खबर के मुताबिक़, बहरीन सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खाड़ी देश की पहली यात्रा के दौरान सद्भाव प्रदर्शित करते हुए 250 भारतीय कैदियों की सजा रविवार को माफ कर दी. प्रधानमंत्री ने इस शाही माफी के लिए बहरीन नेतृत्व का आभार व्यक्त किया. प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया कि सदाशयता एवं मानवीय सद्भाव के तहत बहरीन सरकार ने बहरीन में सजा काट रहे 250 भारतीयों को माफी दे दी है.  इसने कहा कि प्रधानमंत्री ने बहरीन के शाह और पूरे शाही परिवार को उनके इस फैसले के लिए धन्यवाद दिया है.

इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहरीन की राजधानी मनामा में कृष्ण के 200 साल पुराने मंदिर के पुनर्निर्माण के लिए यहां 42 लाख डॉलर की परियोजना का रविवार को शुभारम्भ किया और कहा कि यह भारत तथा बहरीन के बीच मजबूत संबंधों को दर्शाता है. मनामा में श्रीनाथजी (श्री कृष्ण) मंदिर का पुनर्निर्माण कार्य इस साल आरंभ किया जाएगा. मनामा स्थित इस 200 साल पुराने मंदिर का 42 लाख डॉलर की लागत से 45 हजार वर्ग फुट क्षेत्र में तीन मंजिला भवन के साथ नवीनीकरण किया जा रहा है.

पीएम मोदी शनिवार को यहां पहुंचे थे. वह बहरीन की यात्रा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं. पीएम मोदी ने मनामा के श्रीनाथजी मंदिर में प्रार्थना की और ‘प्रसाद’ चढ़ाया जो उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात में शनिवार को ‘रुपे’ कार्ड के उद्घाटन के बाद उससे खरीदा था. श्रीनाथजी मंदिर क्षेत्र में सबसे पुराना मंदिर है. प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘बहरीन के श्रीनाथजी मंदिर में समय व्यतीत किया. यह क्षेत्र के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है और यह भारत तथा बहरीन के बीच मजबूत संबंधों को दर्शाता है.’

प्रधानमंत्री ने इसके बाद पट्टिका का अनावरण किया और इसके साथ ही मंदिर की पुनर्निर्माण परियोजना का अधिकारिक रूप से उद्घाटन हुआ. बहरीन में तीन लाख 50 हजार भारतीय रहते हैं, जिनमें अधिकतर केरल के लोग हैं. बहरीन की कुल 12 लाख आबादी का एक तिहाई भारतीय हैं. मोदी ने मंदिर में कार्यक्रम में भाग लेने आए भारतीय समुदाय का भी अभिवादन किया और उनसे बातचीत की.

Share This Post