Breaking News:

असम में पकड़ा गया रोहिंग्या परिवार फिर से भेजा गया म्यन्मार. आगे हजारों की लिस्ट जारी

भारत सरकार और प्रदेश सरकार ने आख़िरकार रोहिंग्या घुसपैठियों पर अपने रुख को कड़ा करते हुए उन्हें उनके असल गन्तव्य तक भेजने का फैसला कर ही लिया है और इसकी शुरुआत असम में अवैध रूप से घुसे एक रोहिंग्या परिवार से की गयी है जिसमे कुल सदस्यों की संख्या 5 बताई जा रही है. . इसी खबर में आगे हजारों अन्य की संख्या सरकार की लिस्ट में बताई जा रही है जिनको जल्द ही म्यन्मार फिर से भेजे जाने की संभावना है .

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स से बात करते हुए असम के एडिशनल डायरेक्टर जनरल (एडीजी) ऑफ पुलिस ने कहा, ‘पांच रोहिंग्याओं को सीमा के उस पास भेजकर म्यांमार के अधिकारियों को उन्हें सौंप दिया है।’ एडीजी ने कहा कि उन्होंने 20 अन्य म्यांमार के नागरिकों को अवैध प्रवेश के आरोप में हिरासत में लिया है। यहाँ ये भी गौर करने योग्य है कि भारत ने पिछले साल अक्टूबर में सात रोहिंग्या मुसलमानों को वापस म्यांमार भेज दिया था,

भारत ने गुरुवार को एक और रोहिंग्या मुस्लिम परिवार को म्यांमार पहुंचा दिया है। भारत के नॉर्थ ईस्ट प्रांत में अवैध रोहिंग्याओं पर हो रही कार्रवाई में पिछले चार महीनों में यह दूसरी बार है, जब रोहिंग्या परिवार को वापस म्यांमार भेजा गया है। अवैध रोहिंग्याओं को देश की सुरक्षा के लिए खतरा मान रही केंद्र सरकार ने नॉर्थ ईस्ट में हजारों लोगों की पहचान की है, जिन्हें वापस म्यांमार भेजने की तैयारी हो रही है। असम की सरकार ने जिन पांच रोहिंग्या मु्स्लिम को वापस म्यांमार भेजा है, उनमें पति, पत्नी और तीन बच्चे शामिल हैं। इस परिवार को 2014 में हिरासत में लिया गया था, जिन्होंने सीमा पार से भारत में घुसपैठ की थी।

 

Share This Post