Breaking News:

मुसलमानों का सबसे बड़ा दुश्मन साबित हो रहा रूस.. अब तक सीरिया में लगभग 1 लाख मुसलमानों का कर चुका है नरसंहार

इस्लामिक आतंक के खिलाफ बेहद ही आक्रामक रुख अख्तियार करने वाले दुनिया के मुल्कों की बात की जाए तो इसमें इजराइल तथा रूस का नाम प्रमुखता से लिया जाता है. रूस इस्लामिक चरमपंथ का कितना बड़ा दुश्मन है इसका जवाब खुद रूस ने दिया है. रूस ने सीरिया में अब तक लगभग 1 लाख मुस्लिमों का नरसंहार किया है. रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोयगू ने शनिवार को सिंगापुर में एक फोरम के दौरान वक्तव्य जारी कर कहा कि रूस की सेना ने सीरिया में हस्तक्षेप के बाद से तीन वर्षों के दौरान करीब 88 हजार विद्रोही मारे हैं.

रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोयगू ने कहा कि इस अभियान के दौरान कम से कम 87,500 विद्रोही मारे जा चुके हैं. 1,411 ठिकानों को विद्रोहियों के कब्जे से छुड़ाने के साथ ही सीरिया के 95 प्रतिशत क्षेत्र को मुक्त कराया जा चुका है. उन्होंने कहा कि अधिकांश विद्रोहियों को खत्म कर दिया गया है. सीरिया में गृह युद्ध की निगरानी करने वाले ब्रिटेन आधारित मानवाधिकार संगठन के मुताबिक, सात वर्षों के गृहयुद्ध के दौरान करीब 365,000 लोग मारे गए हैं.

गौरतलब है कि रूस राष्ट्रपति बशर अल-असद की सेना को समर्थन देने के लिए सितंबर 2015 में विद्रोहियों पर हमले करने के साथ ही सीरिया के गृहयुद्ध में शामिल हो गया था. श्री शोयगू ने कहा कि रूसी वायु सेना विद्रोहियों के 120,000 ठिकानों को निशाना बना 40 हजार से अधिक बम हमले कर चुकी है. रूसी रक्षा मंत्री ने कहा कि सीरिया में आबादी वाले 90 प्रतिशत क्षेत्र पर सीरिया की सेना का कब्जा है. उन्होंने कहा कि रूस विद्रोहियों को पूरी तरह से खदेड़ने तक सीरिया में लगातार अपनी कार्यवाई जारी रखेगा.

Share This Post