रोहिंग्या के लिए दहाड़े मार कर रो रहे अरब ने पड़ोसी यमन में फिर किए 35 कत्ल


 आपको बता दे कि यमन की राजधानी सना की एक जेल पर सऊदी अरब ने हवाई हमला किया है। इस हवाई हमले में 35 लोगों की मौत हो गई । और 90

लोग बुरी तरह से घायल हो गए। सूत्रों के मुताबिक सैन्य बैरक पर 12 दिसंबर की शाम को बमबारी की गई। जेल के अधिकारी ने बताया कि जेल में 180 कैदी

थे। लेकिन हमले के बाद केवल दर्जन भर ही कैदी बच पाए। जेल के अधिकारी ने और जानकारी देने से साफ इंकार कर दिया ।

कि क्या कैदी यमन के दिवंगत

राष्ट्रपति अली अब्दुल्लाह सालेह के प्रति वफादार थे, जोकि उनके पूर्व सहयोगी दल हौती से लड़ते हुए इस महीने की शुरुआत में मारे गए थे।
आपको बता दे कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त राष्ट्रपति अब्द रब्बा मंसूर हादी की सरकार का समर्थन करने वाले अरब गठबंधन ने सालेह की मृत्यु के दो

दिन बाद, 6 दिसंबर से यमन में हमलों को तेज कर दिया है। देश की राजधानी सना और अधिकांश उत्तरी भाग हौती विद्रोहियों के नियंत्रण में है।

संयुक्त राष्ट्र के

अनुसार, 2015 में संघर्ष में गठबंधन के हस्तक्षेप के बाद से 8,670 से ज्यादा लोग मारे गए और 49,960 लोग घायल हुए हैं।
संयुक्त राष्ट्र महासचिव अंतोनियो गुटेरेस की ओर से ”निरर्थक युद्ध” को खत्म करने के लिए रविवार (10 दिसंबर) को की गई अपील के बाद भी मार्च 2015 से

सऊदी अरब की अगुवाई में विद्रोहियों के खिलाफ किए जा रहे हवाई हमलों में कोई कमी नहीं आई है।

अल-मसीराह ने कहा कि राजधानी सना स्थित शिविर पर तड़के किए गए हमलों में मारे गए सभी लोग कैदी थे। एएफपी के एक फोटोग्राफर ने देखा कि विद्रोही

लड़ाके बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुकी इमारतों के मलबे से शवों को निकाल रहे हैं।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share