Breaking News:

इस्लामिक मुल्क सऊदी अरब का पाकिस्तानी डॉक्टरों पर सर्जिकल स्ट्राइक.. नीम हकीमों को ये आदेश

पहले से ही कराह रहे आतंकी मुल्क पाकिस्तान को इस्लामिक मुल्क सऊदी अरब ने करारा झटका दिया है. खबर के मुताबिक़, सऊदी सरकार ने पाकिस्तान से MS (मास्टर ऑफ सर्जरी) और MD (डॉक्टर ऑफ मेडिसिन) की डिग्री लेकर आए डॉक्टरों को अयोग्य ठहराया है. वहां की सरकार का मानना है कि पाकिस्तान के इन दोनों डिग्री वाले डॉक्टर्स की पढ़ाई उस स्तर की नहीं कि उन्हें यहां प्रैक्टिस करने दिया जाए. इसके  साथ ही सऊदी सरकार ने इन पाकिस्तानी डॉक्टर्स को सऊदी छोड़ने का आदेश दे दिया है.

बता दें कि सबसे ज्यादा पाकिस्तानी डॉक्टर सऊदी अरब में हैं. पिछले महीने सऊदी सरकार ने पाकिस्तानी डॉक्टर्स को जॉबलेस घोषित कर दिया था, जिसके बाद हजारों डॉक्टरों की नौकरी चली गई थी. अब इन डॉक्टरों को सऊदी छोड़ने के लिए कह दिया गया है. अब ये डॉक्टर वापस पाकिस्तान जा रहे हैं. मिडिल ईस्ट आई की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले महीने सऊदी अरब के स्वास्थ्य आयोग (SCFHS) द्वारा जारी किए गए टर्मिनेशन लेटर में कहा गया था कि सऊदी सरकार अब पाकिस्तानी स्नातकोत्तर डिग्री कार्यक्रमों, एमएस और एमडी को मान्यता नहीं देती है. मेडिकल लाइसेंस के लिए उनकी योग्यता अस्वीकार्य है.

एक लेटर में लिखा गया है, “पेशेवर योग्यता के लिए आपका आवेदन अस्वीकार कर दिया गया है. वजह ये है कि पाकिस्तान से आपकी मास्टर डिग्री SCFHS नियमों के मुतबिक स्वीकार्य नहीं है.” पाकिस्तानी न्यूज़ एजेंसी डॉन के मुताबिक, लेटर पाने वाले पाकिस्तानी डॉक्टरों को सऊदी अरब छोड़ने और प्रत्यर्पण के लिए तैयार रहने के लिए कहा गया है. सऊदी मंत्रालय ने दावा किया कि डिग्री में वरिष्ठ नौकरियों के लिए आवश्यक चिकित्सा प्रशिक्षण का अभाव था. इस खबर से काफी पाकिस्तानी डॉक्टरों को झटका लगा है, जिनमें से कई सऊदी अरब में दशकों से काम कर रहे हैं. अब वो या अपने देश वापस जा रहे हैं या जाने की तैयारी कर रहे हैं. इसके अलावा और कोई भी विकल्प उनके पास नहीं बचा है.

 

Share This Post