Breaking News:

आतंकियों को निश्चित मौत से बचाने के लिए श्रीलंका पुलिस का अंतिम अल्टीमेटम


जब इस्लामिक आतंकियों ने श्रीलंका के चर्चों तथा होटलों पर सिलसिलेवार भीषण बम धमाकों को अंजाम दिया तथा सैकड़ों लोगों की जान ले ली, तब दुनिया में किसी को भी ये उम्मीद नहीं रही होगी कि इसके बाद श्रीलंका इतना रौद्र रूप अख्तियार कर लेगा तथा आतंकियों का काल बन जाएगा. पहले तो श्रीलंकाई सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ों में कई आतंकियों को मार गिराया फिर श्रीलंकाई सत्ता ने इस्लामिक कट्टरपंथ पर ऐसा चाबुक चलाया कि दुनिया दंग रह गई.

बुर्का बैन, मदरसों-मदरसों तथा इस्लामिक मौलानाओं को लेकर बेहद ही कड़ी कार्यवाई के बाद अब श्रीलंकाई पुलिस  अधिकारियों ने शनिवार को लोगों को आदेश दिया है कि यदि उनके पास कोई अवैध विस्फोटक है तो वे इसकी सूचना अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन में दें और तीन दिन में विस्फोटक को वहां जमा करवाएं अन्यथा इसका अंजाम बुरा होगा. पुलिस के अनुसार धमाको के बाद जब पुलिस ने सर्च ऑपरेशन चलाया था उस दौरान मस्जिदों से तलवार व अन्य धारदार हथियार बरामद हुए थे.

बताया गया है कि श्रीलंकाई पुलिस ने एक सप्ताह पहले ही लोगों से धारदार हथियार जमा करवाने की अपील की थी. इस दौरान लोगों के घरों से भी हथियार बरामद किए गए थे. वहीं श्रीलंका के कई इलाकों में दंगे भड़कने के बाद अब तक कर्फ्यू जारी है और सुरक्षाबलों ने मौके पर डेरा डाल रखा है. पुलिस प्रवक्ता एस पी रुवन गुणशेखर ने कहा कि शनिवार सुबह छह बजे से तीन दिन के लिए यह अवधि लागू की गई है.

उन्होंने कहा कि इसी अवधि के दौरान सभी लोग अवैध विस्फोटकों की जानकारी देते हुए उसे अपने नजदीक के पुलिस थाने में जमा करवाएं. मंगलवार सुबह छह बजे तक लोगों को पुलिस को सूचित करने के बाद यह करना होगा. ऐसा नहीं करने पर और विस्फोटकों के किसी के पास भी पाए जाने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...