इस्लामिक मुल्कों के सम्मेलन में सिंहनी जैसी दहाड़ी सुषमा स्वराज.. बोली – ‘कश्मीर मामले में आप बीच में न पड़ें”

भारत की शान में जहाँ यहाँ की सेना चार चाँद लगा रही है वहीँ अब भारत की राजनीति और कूटनीति का भी डंका पूरी दुनिया में बज रहा है . भारत के अभिनानंदन की दृढ़ता जहाँ दुनिया के सभी सैनिको के लिए प्रेरणा का स्रोत बन चुकी है तो वहीँ इस्लामिक देशो की बैठक में सुषमा स्वराज का साफ़ संदेश बन चुका है पाकिस्तान ही नहीं तमाम इस्लामिक देशो के लिए वो संदेश जो आने वाले समय में भारत के रुख का एक प्रतिबिम्ब माना जा सकता है ..

ज्ञात हो कि इस्लामिक मुल्को के एक सम्मेलन में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने तमाम इस्लामिक मुल्को की कश्मीर मामले में दी गयी दखल को सिरे से किनारे कर दिया और कहा है कि उनकी किसी भी प्रकार की दखल की जरूरत नहीं है . इतना ही नहीं उन्होंने भरी सभा में साफ़ साफ़ कहा कि कश्मीर भारत का ही अभिन्न अंग है और वो बना भी रहेगा .. सभी इस्लामिक मुल्को के सामने उन्होंने पाकिस्तान की भी अच्छी खासी फजीहत की .

यहाँ पर ध्यान देने योग्य ये भी है कि पुलवामा हमले के बाद जहाँ भारत की फ़ौज ने पाकिस्तान को उसके घर में घुस कर धूल चटा दी है तो वहीँ भारत की सफल कूटनीति ने अमेरिका , रूस , फ्रांस और इजरायल जैसे देशो को पाकिस्तान के विरोध में खड़ा कर दिया है . यहाँ तक कि डोनाल्ड ट्रम्प तक ने पाकिस्तान को साफ़ साफ संदेश देते हुए कहा है कि पाकिस्तान को अपनी जमीन से आतंकवाद को खत्म करना ही होगा . फिलहाल सुषमा स्वराज की दृढ़ता और साफ़ संदेश दुनिया भर के लिए एक प्रेरणा बन चुका है .

Share This Post